Jhanvi Kapoor And Arjun Kapoor Will Seen in Koffee With Karan

दि राइजिंग न्यूज़

नई दिल्ली।

 

पिछले कई महीनों से करोड़ों यात्री रेलवे की लेटलतीफी से काफी परेशान हैं। हाल यह है कि कई ट्रेन ने 24 से 28 घंटे तक लेट होने का रिकॉर्ड ही बना दिया। अब नाकाम रेलवे चालाकियों पर उतर आया है। ट्रेनों को सही टाइम पर दिखाने के लिए कई ट्रेनों के गंतव्य स्टेशन पर पहुंचने के टाइम में ही बढ़त कर दी गई है।

 

नाकाम रेलवे बाजीगरी पर उतर आया

वित्त वर्ष 2017-18 की बात करें तो करीब 30 फीसदी ट्रेन लेट ही चली हैं। हाल के दिनों में तो ट्रेनों के नियत समय पर पहुंचने के मामले में 40 फीसदी की गिरावट आई है। लेटलतीफी से शर्मिंदा रेलवे ने ट्रेनों को समयबद्ध करने के लिए मई महीने में 15 दिन का अभियान चलाया, लेकिन ऐसा लगता है कि इसमें नाकाम रहने पर अब रेलवे बाजीगरी का सहारा ले रहा है।

रेलवे की चाल

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार,  रेलवे ने एक साथ 185 ट्रेन के टाइमटेबल में बदलाव करने का निर्णय लिया है, ताकि उनका समय से पहुंचना सुनिश्चित किया जा सके। दक्षिण रेलवे और उत्तर रेलवे ने अपनी ट्रेनों की टाइम को एक घंटा तक बढ़ा दिया है। उत्तर रेलवे ने अपने 95 ट्रेनों के अराइवल टाइम में 30 से 60 फीसदी की बढ़त की है। उत्तर रेलवे में अंबाला, दिल्ली, फिरोजपुर, लखनऊ और मुरादाबाद डिवीजन आते हैं। इसी तरह छह रेलवे डिवीजन वाले दक्ष‍िण रेलवे ने 90 ट्रेनों की यात्रा का समय 30 घंटे से एक घंटे तक बढ़ा दिया है।

 

मंत्रालय का क्या है कहना?

रेल मंत्रालय के वरिष्ठ अधिकारियों का कहना है कि देश भर में बड़े पैमाने पर हो रहे मरम्मत कार्य की वजह से ट्रेनें लेट हो रही हैं। इसलिए रेलवे ने ट्रेनों के अराइवल टाइम में बढ़त करने का निर्णय लिया है। आंकड़ों के अनुसार साल 2016-17 में रेलवे के 2,687 लोकेशन में 15 लाख से ज्यादा मेन्टेनेंस ब्लॉक थे, जबकि साल 2017-18 में 4,426 लोकेशन पर 18 लाख से ज्यादा मेन्टेनेंस ब्लॉक। खासकर सुपरफास्ट ट्रेनों पर इसका असर पड़ा है।

मंत्रालय के अधिकारी का कहना है कि, “यदि टाइमटेबल के मुताबिक किसी ट्रेन के पहुंचने का टाइम 8 बजे है और वह नियमित रूप से 9 बजे पहुंच रही है, तो इसका कोई मतलब नहीं है। इसलिए बेहतर यही है कि उसका आधिकारिक समय भी वही कर दिया जाए।”

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement