Ishaan Khattar and Jhanvi Kapoor After Dhadak Success

दि राइजिंग न्यूज़

नई दिल्ली।

 

एक तरफ गुजरात में विधानसभा चुनाव के लिए प्रचार चल रहा है और दूसरी तरफ कांग्रेस में पार्टी अध्यक्ष पद पर राहुल गांधी की ताजपोशी की तैयारी की जा रही है। इसे लेकर पूरी कांग्रेस में जश्न का माहौल दिखाई दे रहा है लेकिन इस बीच पार्टी के एक वरिष्ठ नेता का ऐसा बयान आया है, जिसने राहुल की ताजपोशी पर बीजेपी को तंज कसने का एक और मौका दे दिया है।

 

दरअसल, सोमवार को नई दिल्ली में कांग्रेस मुख्यालय में जब राहुल गांधी के नामांकन की प्रक्रिया को अंजाम दिया गया, उसी दौरान पार्टी दफ्तर के बाहर कांग्रेस नेता मणिशंकर अय्यर मीडिया से मुखातिब हुए। इस दौरान जब उनसे कांग्रेस में डायनेस्टी पॉलिटिक्स पर शहजाद पूनावाला के आरोप को लेकर सवाल किया गया तो वे मुगल शासकों का उदाहरण देने लगे। जिसे पीएम मोदी ने गुजरात में चुनावी भाषण के तौर पर इस्तेमाल कर लिया।

वंशवाद के सवाल पर मणिशंकर अय्यर ने अपने जवाब में कहा है, “जब जहांगीर की जगह शाहजहां आए, तब कोई चुनाव हुआ? जब शाहजहां की जगह औरंगजेब आए, तब कोई चुनाव हुआ?  नहीं, क्योंकि पहले से पता था कि जो भी बादशाह है उनकी औलाद ही बनेंगे, लेकिन लोकतंत्र में चुनाव होता है और शहजाद पूनावाला को मैं आमंत्रण देता हूं कि वो आकर चुनाव लड़ें।”

 

पीएम मोदी ने अपनी रैली में इस बयान का हवाला देते हुए राहुल के नामांकन पर निशाना साधा। पीएम मोदी ने कहा, “कांग्रेस नेता खुद मानते हैं कि ये पार्टी नहीं, ये कुनबा है। उन्हें ये औरंगजेब राज मुबारक हो।”

मणिशंकर की सफाई

 

पीएम मोदी ने जब अय्यर के बयान को मंच से पढ़ा तो उन्होंने अपने बयान पर सफाई दी। अय्यर ने सफाई में कहा कि पीएम मोदी ने उनके बयान को ट्विस्ट दिया है। मणिशंकर अय्यर ने कहा, “वंशवाद तब होता है जब चुनाव नहीं होता और राहुल गांधी को अध्यक्ष बनाने के लिए चुनाव हो रहा है और कोई भी उम्मीदवार यहां चुनाव लड़ सकता है।” जबकि पीएम मोदी ने अपने भाषण में अय्यर के मुगल शासक में गद्दी मिलने वाले बयान को प्रमुखता से रखा।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement

Loading...

Public Poll