Home Top News Indian Army Made The List Of Dreaded Terrorists In Jammu And Kashmir

जम्मू-कश्मीर: पाकिस्तान सीजफायर उल्लंघन में एक और नागरिक की मौत

हम शहीदों के परिवार के लिए कुछ भी करें वो हमेशा कम ही रहेगा: राजनाथ सिंह

केंद्र सरकार लोकतंत्र की हत्या करने में जुटी है: संजय सिंह

ममता ने PM से की विवेकानंद- बोस जन्मदिवस को नेशनल हॉलिडे घोषित करने की मांग

J&K में हमारी सेना, पैरा और पुलिस समन्वय से कर रही आतंकियों का सफाया: राजनाथ

सेना की हिट लिस्ट में पांच खूंखार आतंकी...  

Home | 16-Sep-2017 09:49:17 AM | Posted by - Admin

   
Indian Army Made the list of Dreaded Terrorists in Jammu and Kashmir

दि राइजिंग न्यूज़

श्रीनगर।

 

लश्कर-ए-तैयबा के कमांडर अबू इस्माइल के मारे जाने के बाद सुरक्षा एजेंसियों ने सबसे खूंखार आतंकियों की हिट लिस्ट बनाई है। इस लिस्ट में 5 खूंखार आतंकी हैं, जिनकी सुरक्षा बलों को तलाश है।

 

आतंकियों के नाम लिस्ट के अनुसार

 

  • हिज्बुल मुजाहिद्दीन के डिवीजनल कमांडर रेयाज नाइकू उर्फ जुबैर

  • लश्कर के नए कमांडर जीनत उल इस्लाम उर्फ अल्कामा 

  • अंसार गजवत उल हिंद के चीफ कमांडर जाकिर राशिद भट्ट उर्फ जाकिर मूसा

  • लश्कर ए तैयबा का कमांडर वसीम उर्फ ओसामा

  • जैश ए मोहम्मद का डिवीजनल कमांडर अबू हमास

इनके अलावा कश्मीर घाटी में 200 और आतंकी सक्रिय हैं। ये आतंकी आर्मी, सुरक्षा बल और सैन्य प्रतिष्ठानों को निशाना बनाने की फिराक में हैं। इनकी योजना रेलवे स्टेशनों को भी निशाना बनाने की है, जहां आर्मी के जवान इकट्ठा होते हैं।

 

सेना के सूत्रों के मुताबिक अबू इस्माइल का मारा जाना सुरक्षा बलों के लिए एक बड़ी सफलता है। अबू इस्माइल घाटी में कई बैंक डकैतियों में शामिल था। नोटबंदी के बाद आतंकियों को पैसा मुहैया कराने के लिए अबू इस्माइल ने कई बैंकों पर हमले करवाए। नोटबंदी के चलते आतंकियों को कैश की कमी से जूझना पड़ा था।

सूत्रों ने बताया कि पाकिस्तानी आईएसआई और लश्कर के सह संस्थापक हाफीज सईद ने इस्माइल को लश्कर का कमांड सौंपा था। आईएसआई और हाफीज को लगता था कि कश्मीरी लड़की के प्यार में पड़ जाने की वजह से अबू दुजाना का फोकस लश्कर के नेतृत्व से हट गया था।

 

अबू इस्माइल की एक पहचान एक आक्रामक आतंकी के रूप में थी। इस्माइल की कोशिश हमेशा यह रहती थी कि वह कश्मीरियों के सीधे संपर्क में न आए और पकड़े जाने से बचा रहे। इस्माइल अक्सर स्थानीय आतंकियों का इस्तेमाल करता जो अपने समूह के लड़कों के जरिए संपर्क में रहते।

इस्माइल के ग्रुप में 8 से 9 आदमी थे। इनमें स्थानीय और विदेशी आतंकी भी शामिल थे। ये लोग दक्षिण कश्मीर और श्रीनगर को जोड़ने वाले नेशनल हाइवे पर खास तौर पर एक्टिव रहते। दक्षिण कश्मीर इलाके को देख रहे सेना के राष्ट्रीय राइफल्स के जवानों का कहना है कि अबू इस्माइल का मारा जाना सुरक्षा बलों के लिए एक बड़ी कामयाबी है। इससे लश्कर लीडरशिप कमजोर होगी और नेतृत्व में खालीपन बढ़ेगा।

 

"जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555








TraffBoost.NET

Rising Stroke caricature
The Rising News Public Poll





Flicker News

Most read news

 


Most read news


Most read news