Home Top News Indian Airforce Plan To Rescue Delhi Form Air Attack

इंदिरा गांधी की 100वीं जयंती पर इलाहाबाद में मैराथन का आयोजन

हिमाचल प्रदेश के लाहूल स्पीति में ताजा बर्फबारी

पीएम नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर दी पूर्व PM इंदिरा गांधी को श्रद्धांजलि

कोलकाता टेस्ट: श्रीलंका ने भारत के स्कोर को किया पार

गोरखपुर: कोहरे की वजह से वैशाली और गोरखधाम एक्सप्रेस 12 घंटे लेट

एयरफोर्स ने बनाया दिल्ली की “डबल" सुरक्षा का प्लान

Home | 09-Nov-2017 16:40:30 | Posted by - Admin
   
Indian Airforce Plan to Rescue Delhi Form Air Attack

दि राइजिंग न्यूज़

नई दिल्ली।

 

दिल्ली को दुश्मन देशों के हवाई हमलों से बड़ी सुरक्षा मिलने जा रही है। यहां रह रहे महत्वपूर्ण लोगों ठिकानों की सुरक्षा के लिए इंडियन एयरफोर्स दो लेयर में एयर डिफेंस सिस्टम इंस्टॉल करने की कोशिश कर रहा है। यह डिफेंस सिस्टम दुश्मनों के एयरक्राफ्ट, ड्रोन और हेलिकॉप्टर की खतरनाक मंसूबों को नाकाम करने के काबिल होगा।

 

सूत्रों के अनुसार रक्षा मंत्रालय की सरकारी खरीदों पर निर्णय लेने वाले विभाग डिफेंस एक्वेजिशन काउंसिल के पास जल्द इस तरह का प्रस्ताव भेजा जाएगा। इस सिस्टम के तहत पहले क्रूज मिसाइलों को 25 किमी की दूरी पर रोकने की कोशिश होगी। विफल होने पर उन्हें 5 से 6 किमी के दायरे में रोकने की दोबारा कोशिश होगी।

इस सिस्टम को राष्ट्रपति भवन, संसद जैसे महत्वपूर्ण ठिकानों पर लगाया जाएगा। सूत्र के अनुसार हमारे देश के पास अपना बनाया हुआ एयर‍ डिफेंस सिस्टम आकाश मिसाइल है। हालांकि डीआडीओ अभी भी ऐसे रक्षा तंत्र को विकसित करने की कोशिश कर रहा है जो  से 6 किमी के दायरे के नीचे लेवल पर भी मिसाइल अटैक रोक पाए।

 

वहीं एक और डील के तहत महत्वपूर्ण शहरों और जगहों को चीन और पाकिस्तान जैसे दुश्मन देशों के मिसाइल अटैक से बचाने के लिए सिस्टम लगाने की कोशिश हो रही है। इसके तहत मिसाइल के बारे 400 किमी की दूरी से पहले ही अलर्ट करने वाले वॉर्निंग सिस्टम को तैनात करने की कोशि‍श हो रही है। इसके लिए इस तरह के डिफेंस सिस्टम एस 400 को रूस से खरीदने की कोशि‍श हो रही है।

एयरफोर्स ने एस 400 का ट्रायल कर लिया है और अंतिम कीमत पर बातचीत की जा रही है। इस सिस्टम को खरीदने में 37,000-38,000 करोड़ रुपये खर्च हो सकते हैं। इसके साथ ही स्वदेशी बलिस्टिक मिसाइल डिफेंस शील्ड प्रोजेक्ट पर भी काम चल रहा है। स्वदेशी बलिस्टिक मिसाइल डिफेंस शील्ड प्रोजेक्ट के तहत दिल्ली और मुंबई को बलिस्टिक मिसाइल से सुरक्षा की तैयारी हो रही है।इस डीआरडीओ प्रोजेक्ट के तहत लंबी दूरी से आने वाले मिसाइलों (जैसे 2000 किमी और उससे ज्यादा या 30 से 120 किमी की ऊंचाई से आनी वाली मिसाइलें) शामिल हैं।

 

पिछले कुछ सालों में भारत एयर डिफेंस को मजबूत करने के लिए काफी कदम उठा रहा है।भारत ने सरहद पर अब एक ऐसा एयर डिफेंस सिस्टम लगाया है, जो पाकिस्तान की तरफ से आने वाले किसी भी हवाई खतरे को पल भर में ढेर कर देगा। स्पाइडर एयर डिेफेंस सिस्टैम को पाकिस्तान से लगने वाली सीमा पर तैनात कर दिया गया है। यह सिस्टंम किसी भी एयरक्राफ्ट, क्रूज मिसाइल, सर्विलांस प्लेीन या फिर हर उस ड्रोन का पता लगाएगा जो भारत के एयरस्पे स का उल्लं,घन करेंगे। पाकिस्ता्न की ओर से भारत पर हर पल खतरा बढ़ता जा रहा है। ऐसे में भारत को अपनी तैयारियां पूरी रखनी है। इन्हींल तैयारियों का हिस्सा  है पश्चिमी सीमा पर तैनात हुआ स्पा इडर इजरायल एयर मिसाइल डिफेंस सिस्टाम, जिसे अंतराष्ट्री य बॉर्डर की ताकत बढ़ाने के मकसद से तैनात किया गया है।

वहीं एनडीए सरकार ने 18000 करोड़ रुपये के MR-SAM मिसाइल खरीदने वाले प्रोजेक्ट को भी मंजूरी दी हे। वहीं जवानों के कंधों पर से चलाए जाने वाले तीन तरह के एयर डिफेंस सिस्टम को खरीदने की मंजूरी मिली है।

 

"जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555



संबंधित खबरें



HTML Comment Box is loading comments...

Content is loading...




TraffBoost.NET

Rising Stroke caricature
The Rising News Public Poll


What-Should-our-Attitude-be-Towards-China


Photo Gallery
गोमती तट पर दीप आरती करती महिलाएं। फोटो- अभय वर्मा



Flicker News

Most read news

 


Most read news


Most read news


sex education news