Home Top News India Can Talk To Pakistan On Terrorism

दिल्ली के मुखर्जी नगर में कैदी को हॉस्पिटल ले जाने के दौरान साथियों ने पुलिस बल पर किया हमला

दिल्ली के मुखर्जी नगर में कैदी को छुड़ाने की कोशिश, हमले में एक सिपाही की मौत

मुंबईः पीएनबी घोटाले मामले में तीनों आरोपी सीबीआई कोर्ट पहुंचे

दिल्लीः मुख्य सचिव ने पुलिस में आप विधायकों के खिलाफ केस दर्ज कराई

दिल्लीः मुख्य सचिव ने कहा, आप विधायकों के साथ मारपीट में मेरा चश्मा नीचे गिर गया

आतंकवाद पर हो सकती है भारत-पाक के बीच बातचीत!

Home | 12-Jan-2018 12:10:32 | Posted by - Admin
   
India Can Talk To Pakistan On Terrorism

दि राइजिंग न्‍यूज

नई दिल्ली।

 

पिछले दिनों से भारत-पाकिस्तान के रिश्ते के बीच खटास चल रही है, लेकिन अब इसके सुधरने के संकेत मिल रहे हैं। विदेश मंत्रालय ने माना है कि दिसंबर के आखिरी हफ्ते में थाईलैंड में राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल और पाकिस्तान के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार नासिर खान जांजुआ की मुलाकात हुई। हालांकि भारत ने साफ किया कि बातचीत सिर्फ आतंकवाद के मुद्दे पर हुई।

 

 

26 दिसंबर 2017 को थाईलैंड की राजधानी बैंकॉक में भारत के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल और पाकिस्तान के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार नासिर खान जांजुआ के बीच बैठक हुई। तीन हफ्ते बाद अब विदेश मंत्रालय ने मुलाकात की खबर पर मुहर लगा दी है।

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने कहा, जो हमारा मुद्दा है वो आतंकवाद का है। बातचीत में इस बात पर चर्चा हुई कि कैसे आतंकवाद से इस क्षेत्र को आजाद कराया जाए। ये कैसे सुनिश्चित हो कि इस क्षेत्र में आतंकवाद का असर न डाल पाए। बातचीत में हमने सीमा पार से आतंकवाद का भी मुद्दा उठाया।

 

 

भारत और पाकिस्तान के एनएसए के बीच हुई इस बैठक से ये भी साफ हुआ कि ये कोई अंतिम मुलाकात नहीं थी, इस तरह की बातचीत आगे भी होती रहेगी। भारत ने ये साफ कर दिया कि आतंकवाद को लेकर उसके एजेंडे में कोई बदलाव नहीं हुआ है।

विदेश मंत्रालय के प्रवक्‍ता ने कहा, हम कह चुके हैं कि आतंकवाद और बातचीत साथ-साथ नहीं हो सकती। लेकिन आतंकवाद पर बातचीत निश्चित तौर पर होती रहेगी।

 

 

बैठक में नहीं उठा जाधव का मुद्दा

गौरतलब है कि डोभाल और जांजुआ के बीच मुलाकात से ठीक एक दिन पहले यानी 25 दिसंबर को पाकिस्तान की जेल में बंद कुलभूषण जाधव से उनकी मां और पत्नी ने मुलाकात की थी। इस मुलाकात में जाधव की पत्नी और मां का अपमान हुआ जिसका मुद्दा भारत ने पुरजोर तरीके से उठाया था। हालांकि विदेश मंत्रालय ने इस बात से इनकार किया कि NSA की बैठक में जाधव का मुद्दा उठा था।

 

 

रवीश कुमार ने कहा, ऐसी बैठकों में से कुछ की तारीख पहले से तय होती है। मेरा मानना है कि तारीख पहले से निर्धारित थी। इस बैठक का उन बातों से कोई संबंध नहीं है जो उसी दौरान हो रहे थे और एक बार फिर मैं साफ करना चाहूंगा कि बातचीत का मुद्दा आतंकवाद और सीमा पार से आतंकवाद था।

"जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555








TraffBoost.NET

Rising Stroke caricature
The Rising News Public Poll





Flicker News

Most read news

 


Most read news


Most read news