Home Top News Hotel Taj Situated In Mumbai Gets The Trademark Of Its Own

लोया केस में SC के फैसले से अमित शाह के खिलाफ साजिश बेनकाब- योगी

POCSO एक्ट में संशोधन पर बोलीं रेणुका चौधरी- देर आए दुरुस्त आए

शत्रुघ्न सिन्हा बोले- त्याग और बलिदान की प्रतिमूर्ति हैं यशवंत सिन्हा

केंद्र सरकार अली बाबा चालीस चोर की सरकार है: शत्रुघ्न सिन्हा

कर्नाटक विधानसभा चुनाव के लिए AIADMK ने उतारे तीन प्रत्याशी

होटल ताज को मिला ट्रेडमार्क

Home | Last Updated : Jun 20, 2017 11:51 AM IST

  • फोटो का फर्जी यूज़ संभव नहीं

   
hotel taj situated in mumbai gets the trademark of its own

दि राइजिंग न्‍यूज

मुंबई।


मुंबई के ताज महल पैलेस को ट्रेडमार्क मिल गया है। भारत में पहली बार किसी बिल्डिंग को ट्रेडमार्क मिला है। ताज महल पैलेस की इमारत 114 साल पुरानी है।


इसके बाद यह बिल्डिंग दुनिया की चुनिंदा ट्रेडमार्क वाली संपत्तियों के क्लब में शामिल हो गई है। इस क्लब में न्यूयॉर्क की एम्पायर स्टेट बिल्डिंग, पेरिस का एफिल टावर और सिडनी का ओपेरा हाउस शामिल हैं।


आमतौर पर लोगो, ब्रांड नेम, कलर, नंबर्स और साउंड्स आदि का ट्रेडमार्क लिया जाता है, लेकिन 1999 में ट्रेडमार्क अधिनियम लागू होने के बाद से बिल्डिंग के डिजाइन के पंजीकरण का प्रयास कभी नहीं किया गया है।


ताज महल पैलेस होटल को चलाने वाली कंपनी इंडियन होटल्ट कंपनी लिमिटेड (आईएचसीएल) के जनरल काउन्सल राजेन्द्र मिश्र ने कहा कि हमने इसकी विशिष्टता की रक्षा के लिए ऐसा किया है।


यह आईएचसीएल के लिए सबसे महत्वपूर्ण है। कंपनी के रेवेन्यू में इसका 2391 करोड़ का हिस्सा है। ताज महल पैलेस होटल को गेटवे ऑफ इंडिया से भी पहले सन 1903 में बनाया गया था।


इसने भारतीय नौसेना को रास्ता दिखाने के लिए एक त्रिकोणीय बिंदू का काम किया। वहीं पहले विश्व युद्ध के दौरान इस प्रॉपर्टी को हॉस्पिटल में बदल दिया गया था। साल 2008 में जब इस होटल में आतंकी हमला हुआ था तब इस होटल के ऊपर बना गुंबद धुएं से घिर गया था। इस होटल की यह तस्वीर मुंबई आतंकी हमले का सिंबल बन गई।


एक अखबार के मुताबिक राजेन्द्र मिश्र ने कहा कि आजकल बनने वाले होटलों के पास कोई खास डिजाइन नहीं हैं। उन्होंने कहा कि इस बिल्डिंग को रजिस्टर कराने में उन्हें सात महीने का वक्त लग गया। आईएचसीएल की ट्रेडमार्किंग के बाद अब कोई भी कंपनी की बिना इजाजत के ताज महल पैलेस की फोटो का व्यावसायिक इस्तेमाल नहीं कर सकेगा।


अभी कुछ दुकानों पर होटल के फोटो के साथ फोटो फ्रेम और कफलिंक जैसे सामान बेचे जा रहे हैं। हाल ही में न्यूयॉर्क में एक ट्रेडमार्क वाली एम्पायर स्टेट बिल्डिंग की फोटो का इस्तेमाल एक आदमी ने बियर के लोगो के रूप में किया था जिसके बाद उस आदमी को कंपनी अदालत में खींच लाई थी।


यह भी पढ़ें

सवालों पर भड़के लालू, दे डाली गाली 

सलमान का जंग पर बड़ा बयान, पढ़िए क्‍या कहा

"नौकरी नहीं, दोषियों पर कार्रवाई चाहिए"

..तो मोदी के सामने झुक गए केजरीवाल!

झारखंड में अब एक रुपये में होगी रजिस्‍ट्री

राहुल को इतनी जल्‍दी नानी याद आ गईं

सुनिए नवाज़ शरीफ का जवाब..... 

ट्रम्प हुए 71 साल के,पद संभालते ही बन गए थे 

कहीं ये पाक सेना प्रमुख के आदेश तो नहीं...!


"जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555




Flicker News

Loading...

Most read news


Most read news


Most read news


Loading...

Loading...