Pregnant Actress Neha Dhupia Shares Her Opinion on Pregnancy

दि राइजिंग न्यूज़

नई दिल्ली।

 

देश के पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी को एम्स में भर्ती हुए आज तीन दिन हो रहे हैं। मंगलवार को जारी मेडिकल बुलेटिन के अनुसार, उनकी हालत स्थिर है। उन्हें इलाज का फायदा हो रहा है और डॉक्टर्स की एक टीम उनकी देखभाल कर रही है।

मनमोहन-मोहन भागवत ने जाना हाल

मंगलवार को अटल बिहारी वाजपेयी का हाल जानने के लिए भी एम्स में कई लोग पहुंचे। पूर्व प्रधानमंत्री एचडी देवगौड़ा और मनमोहन सिंह भी वाजपेयी का हालचाल लेने अस्पताल पहुंचे। दोनों ने डॉक्टर्स से वाजपेयी की सेहत को लेकर जानकारी ली। उनके अलावा संघ प्रमुख मोहन भागवत भी एम्स पहुंचने वालों में शामिल थे।

 

इस बीमारी का हो रहा इलाज

गौरतलब है कि एम्स के निदेशक रणदीप गुलेरिया की देखरेख में यहां उनका इलाज किया जा रहा है। एम्स ने कहा है कि वाजपेयी को लोअर रेस्पिरेटरी ट्रैक्ट इन्फेक्शन और किडनी संबंधी दिक्कतों के बाद भर्ती कराया गया था। जांच में उन्हें यूरिनरी ट्रैक्ट इन्फेक्शन निकला है।

एम्स की मीडिया और प्रोटोकॉल डिविजन की अध्यक्ष आरती विज ने मंगलवार को कहा, "उनकी हालत स्थिर है, हालत में अब थोड़ा सुधार है। वह एंटीबायोटिक दवाओं पर हैं। सभी प्रमुख मानक स्थिर हैं, संक्रमण के नियंत्रित होने तक वह अस्पताल में रहेंगे।"

 

वाजपेयी (93) के एम्स में भर्ती होने के बाद उनका हालचाल लेने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के अध्यक्ष अमित शाह और कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी सोमवार को अस्पताल पहुंचे थे और उसके बाद मंगलवार को उपराष्ट्रपति एम. वेंकैया नायडू और एमडीएमके के नेता वाइको ने अस्पताल का दौरा किया। वाजपेयी 1996 में महज कुछ दिनों के लिए प्रधानमंत्री पद पर रहे और फिर 1998 से 2004 तक प्रधानमंत्री रहे। खराब स्वास्थ्य के चलते वह करीब एक दशक से ज्यादा समय से सक्रिय राजनीति से दूर हैं।

राहुल ने किया हमला

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने मंगलवार को एक वीडियो ट्वीट कर बीजेपी और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर वरिष्ठ नेताओं के अपमान का आरोप लगाया है। राहुल की ओर से पोस्ट किए गए वीडियो में नरेंद्र मोदी और लालकृष्ण आडवाणी के बीच बदलते रिश्तों को बताने की कोशिश की गई है। राहुल ने ट्वीट में लिखा, “गुरू के मांगने पर एकलव्य ने अपना अंगूठा तक काट दिया था, बीजेपी ने अपने ही गुरुओं से किनारा कर लिया। वायपेयीजी, आडवाणीजी, यशवंत सिंहजी का और उनके परिवारों का अपमान करके ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भारतीय संस्कृति की रक्षा कर रहे हैं?” राहुल ने इसके अलावा कहा कि वह सबसे पहले मिलने वालों में से एक थे।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement