Home Top News Foreign Minister Sushama Swaraj Statement On Terrorists And Terrorism

केंद्र पूर्वोत्तर में 4 हजार किलोमीटर के नेशनल हाईवे को मंजूरी दे चुका है: PM मोदी

रायबरेली से मैं नहीं मेरी मां चुनाव लड़ेंगी: प्रियंका गांधी

दिल्ली पुलिस ने पकड़े शातिर चोर, कार की चाबियां और माइक्रो चिप जब्त

देश की जनता कांग्रेस के साथ नहीं, खत्म हो रही है पार्टी: संबित

जल्द ही CCTV दिल्ली में लग जाएंगे, टेंडर पास: केजरीवाल

आतंकवाद और धर्म में कोई कनेक्शन नहीं

Home | 02-Dec-2017 10:40:15 | Posted by - Admin
   
Foreign Minister Sushama Swaraj Statement on Terrorists and Terrorism

दि राइजिंग न्यूज़

नई दिल्ली।

 

देश की विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने शुक्रवार को कहा कि आतंकवाद को किसी धर्म से नहीं जोड़ा जा सकता है और न इसे जोड़ना चाहिए। आतंक की किसी घटना को तर्कसंगत नहीं ठहराया जा सकता है। उन्होंने अंतरराष्ट्रीय समुदाय से सहयोग बढ़ाने की अपील की ताकि मानवता के खिलाफ इस अपराध से लड़ा जा सके।

 

स्वराज रूस के सोची में आयोजित शंघाई कारपोरेशन आर्गनाइजेशन (एससीओ) के सम्मेलन में हिस्सा ले रही थीं। यह चीन के प्रभाव वाला सुरक्षा समूह है, जो नाटो को चुनौती देने के लिए तैयार किया जा रहा है।

सुषमा ने कहा कि भारत सभी तरह के आतंकवाद और उसके मकसद की निंदा करता है। भारत एससीओ के सदस्य के रूप में पहली बार भाग ले रहा है। जून में भारत और पाकिस्तान इसके सदस्य बने थे।

 

सुषमा ने कहा कि वह एससीओ का सदस्य बनने पर पाकिस्तान को शुभकामनाएं देती हैं। यह बैठक बेहद अहम है क्योंकि भारत के सदस्य बनने के बाद यह परिषद की पहली बैठक है। वहीं यह भारत के पुराने दोस्त रूस की ओर से आयोजित की जा रही है।

2001 में हुई थी स्थापना

 

एससीओ की स्थापना 2001 में शंघाई में रूस, चीन, कजाकिस्तान, ताजिकिस्तान और उजबेकिस्तान ने मिलकर की थी। 2005 में भारत इसमें आब्जर्वर के रूप में शामिल हुआ। अभी इसमें आठ देश हैं, भारत, कजाकिस्तान, पाकिस्तान, चीन, किर्गिस्तान, रूस, ताजिकिस्तान और उजबेकिस्तान। वहीं चार आब्जर्वर देश, अफगानिस्तान, बेलारूस, ईरान और मंगोलिया हैं।

"जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555








TraffBoost.NET

Rising Stroke caricature
The Rising News Public Poll





Flicker News

Most read news

 


Most read news


Most read news




sex education news