Actor Arshad Warsi on Total Dhamaal

दि राइजिंग न्यूज़

नई दिल्ली।

 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लगातार दूसरे दिन देश के आर्थिक हालात पर वित्त मंत्रालय के साथ मंथन किया। इस समीक्षा बैठक के बाद वित्त मंत्री अरुण जेटली ने बताया कि सरकार वित्तीय घाट कम करने की कोशिश कर रही है। उन्होंने ये भी कहा कि पीएम मोदी ने अर्थव्यवस्था के संबंध में संतुष्टि जाहिर की है। हालांकि, तेल कीमतों में हो रहे इजाफे के सवाल को जेटली टाल गए। वित्त मंत्री जेटली ने बताया, “सरकार चालू वित्त वर्ष में 3.3 प्रतिशत के राजकोषीय घाटे के लक्ष्य पर अडिग रहेगी। सरकार को उम्मीद है कि चालू वित्त वर्ष में उसका टैक्स राजस्व बेहतर रहेगा और वर्ष के लिए तय विनिवेश लक्ष्य को भी पार कर लिया जायेगा।”

 

शुक्रवार के बाद शनिवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में हुई अर्थव्यवस्था की समीक्षा बैठक के बाद जेटली ने कहा कि सरकार को 2018-19 के बजट में अनुमानित सकल घरेलू उत्पाद की 7.2 से 7.5 प्रतिशत के वृद्धि को पार कर लेने की उम्मीद है। उन्होंने कहा, “हम राजकोषीय घाटे के लक्ष्य पर कायम रहेंगे।”

इसके साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि पूंजी व्यय के लक्ष्य को भी हासिल किया जाएगा। जेटली ने कहा कि आधार बढ़ने से कर संग्रह बेहतर रहेगा और यह संग्रह बजट अनुमान से अधिक रहेगा। उन्होंने कहा कि माल एवं सेवा कर (जीएसटी) में चीजें दुरुस्त हो रही हैं। उन्होंने भरोसा जताया कि विनिवेश से एक लाख करोड़ रुपये हासिल करने का लक्ष्य भी पार कर लिया जाएगा।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement