Akshay Kumar and Priyadarshan Donated to Save Flood Affected People in Kerala

दि राइजिंग न्यूज़

नई दिल्ली।

 

हिमाचल प्रदेश विधानसभा चुनाव के लिए बिगुल बज गया है। तारीखों की घोषणा के लिए चुनाव आयोग की प्रेस कॉन्फ्रेंस चल रही है। आयोग ने कहा कि चुनाव में फोटो वोटर आइडी कार्ड का इस्तेमाल होगा। हालांकि गुजरात चुनाव के लिए आज तारीखों का ऐलान नहीं किया जाएगा।

 

हिमाचल में कब वोटिंग-

  • 16 अक्टूबर को अधिसूचना जारी होगी।
  • नौ नवंबर को हिमाचल प्रदेश में वोट डाले जाएंगे।
  • 18 दिसंबर को वोटों की गिनती होगी।

 

मुख्य चुनाव आयुक्त अचल कुमार ज्योति ने कहा कि हिमाचल प्रदेश में सात हजार पांच सौ 21 पोलिंग स्टेशन हैं। सभी पोलिंग स्टेशन ग्राउंड फ्लोर पर होंगे और सभी जगहों पर वीवीपैट (VVPAT) का इस्तेमाल किया जाएगा। आयोग ने कहा कि हिमाचल प्रदेश में आज यानी गुरुवार से आचार संहित लागू होगी।

आयोग ने जानकारी देते हुए कहा कि पहली बार किसी राज्य चुनाव में पूरी तरह वीवीपैट का इस्तेमाल किया जाएगा। हर उम्मीदवार चुनाव प्रचार में पैसे खर्च कर सकता है। हर चुनावी रैली की वीडियोग्राफी होगी।

 

ज्योति ने कहा कि मतदाता वीवीपैट से निकली पर्ची से उस उम्मीदवार के नाम का मिलान कर ले जिसको वोट दिया। मुख्य चुनाव आयुक्त ने इस बारे में विस्तार से जानकारी देते हुए कहा कि हर उम्मीदवार को हर कॉलम भरने होंगे और ऐसा न करने पर नोटिस जारी किया जाएगा।

 

लेकिन आयोग के आला अधिकारियों ने कहा कि पहले ही चुनाव कार्यक्रम के ऐलान में देरी हो चुकी है, लिहाज़ा गुरुवार को ही ऐलान करने का फैसला आयोग ने ले लिया। उधर, सरकार के उच्चपदस्थ सूत्रों के मुताबिक भी सरकार को जो ऐलान, उद्घाटन और शिलान्यास करने थे सब हो गए हैं।

 

एक्शन में हैं बीजेपी-कांग्रेस

 

गौरतलब है कि दोनों राज्यों में चुनाव को देखते हुए पेट्रोल-डीज़ल के रेट घटाए गए हैं। केंद्र सरकार के कहने पर ही राज्य सरकारों ने वैट में कटौती की। कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी भी गुजरात का मोर्चा संभाले हुए है। राहुल ने पिछले एक महीने में दो बार गुजरात का दौरा किया है। राहुल शहर-शहर घूमकर मोदी सरकार पर हल्ला बोल रहे हैं।

वहीं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी पिछले कुछ दिनों में ही गुजरात के कई दौरे कर चुके हैं। पीएम ने पिछले दिनों गुजरात में ही बुलेट ट्रेन की नींव रखी, सरदार सरोवर डैम की शुरुआत की और भी कई तरह की योजनाओं की शुरुआत की। पीएम हाल ही में अपने गृहनगर वडनगर भी गए थे।

 

अभी ये है स्थिति

 

गौरतलब है कि गुजरात में 182 विधानसभा सीटें हैं। अभी बीजेपी के पास 120, कांग्रेस 43, एनसीपी 2, जद(यू) 1, 1 सीट निर्दलीय के पास है। दूसरी ओर हिमाचल में कुल 68 विधानसभा सीटें हैं। जहां 36 कांग्रेस के पास, 27 बीजेपी के पास और 5 निर्दलीय के पास हैं।

गुजरात में पहली बार बिन मोदी चुनाव

 

गौरतलब है कि नरेंद्र मोदी के गुजरात की राजनीति को छोड़ देश की कमान संभालने के बाद यह गुजरात का पहला चुनाव है। मोदी की अगुवाई में बीजेपी ने 2002, 2007, 2012 का चुनाव जीता था।  पिछले कुछ दिनों में गुजरात में बीजेपी को पाटीदार आंदोलन जैसी कई चुनौतियों का सामना करना पड़ा है।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement

Public Poll