Actress Natasha Suri to Make Her Bollywood Debut

दि राइजिंग न्यूज़

इंटरनेशनल डेस्क।

 

एक दूसरे को नेस्तोनाबूद करने की धमकी देने वाले दो देशों के शीर्ष नेता डोनाल्ड ट्रम्प और किम जोंग उन आज पहली बार एक दूसरे से रूबरू हुए। सिंगापुर में दोनों नेताओं ने एक दूसरे से हाथ मिलाया और अपने संबंधों को और बेहतर बनाने की इच्छा जाहिर की।

एक दूसरे के लिए जहर उगला करते थे, आज मिलाया हाथ

दरअसल, उत्तर कोरियाई तानाशाह किम जोंग को दुनिया में विलेन का दर्जा दिया गया था। उन्हें एक पागल और सनकी का टाइटल दिया गया था। हालांकि ये सब गलत साबित हुआ। यूएस इंटेलिजेंस के मुताबिक वे बुद्धिमान और काबिल शख्स हैं। अमेरिकी राष्ट्रपति की बात करें तो डोनाल्ड ट्रम्प बेहद गुस्सैल हैं। वे डील करवाने में माहिर हैं। वे किसी भी मुद्दे पर ज्यादा सोचने में यकीन नहीं रखते। उत्तर कोरिया में ज्यादातर लोगों को लगता है कि ट्रम्प पागल हैं। हालांकि लोगों का ये भी मानना है कि ट्रम्प का उतावलापन ही उन्हें कामयाब बनाता है। पिछले साल दोनों नेताओं की एक-दूसरे को दी गई धमकी मीडिया में काफी सुर्खियां बटोरी।

 

किम और ट्रम्प की सोच में काफी डिफ़रेंस

किम एक तानाशाह हैं। वे जब चलते हैं तो उनके और अफसरों के बीच काफी दूरी होती है। ये उनकी ताकत और रुतबे को दिखाता है। वहीं, ट्रम्प को किसी की रोकटोक करना पसंद नहीं है। दोनों नेता पिछले साल एक दूसरे को कई बार जंग की धमकी दे चुके हैं।

दोनों नेताओं के बीच मुलाकात काफी ऐतिहासिक

एक्सपर्ट का कहना है कि मुलाकात के दौरान किम संभवत: ऊंची एड़ी के जूते पहने हुए थे ताकि वे ट्रम्प के बराबर आ सकें। उत्तर कोरियाई इस बात का बराबर ख्याल रखते हैं। किम की हाइट 5 फीट 7 इंच है, वहीं ट्रम्प 6 फीट 1 इंच ऊंचे हैं। मुलकात के वक्त दोनों नेता सहज रहे। दोनों ने पूरा हाथ उठाकर लोगों का अभिवादन किया। ये उनमें विश्वास को दिखाता है।

 

किम का अनुसरण करता है उत्तर कोरिया

विशेषज्ञों की मानें तो किम जोंग उन उत्तर कोरिया के तानाशाह हैं। वे लोगों से घिरे रहते हैं। किम के कपड़ों की स्टाइल उनके अफसरों की यूनिफॉर्म में भी दिखाई देती है। वे आगे अकेले चलते हैं और अफसर पीछे। उनके और अफसरों के बीच कुछ दूरी होती है। किम जो करते हैं, लोग उसे दोहराते हैं। किम से बात करते वक्त भी अफसर दूरी बनाकर खड़े होते हैं। किम की मौजूदगी में सिर्फ वे ही खुशी मना सकते हैं, कोई और नहीं। अफसरों से बात करते वक्त सिर्फ किम ही सिगरेट पी सकते हैं, कोई और नहीं। अफसर उनसे जरा दूर खड़े होकर ही बात सुनते हैं।

ट्रम्प का रवैया

एक्सपर्ट्स के मुताबिक, ट्रम्प सीधे खड़े होते हैं और मूवमेंट थोड़ा धीमा रहता है। किसी को सुनते वक्त उनकी ठोड़ी बाहर निकली रहती है और आंखें सिकुड़ी। ट्रम्प अपने सभी मिलने वालों पर हावी रहते हैं। ट्रम्प किसी भी राष्ट्राध्यक्ष या अफसर से मिलते वक्त से उनसे देर तक हाथ मिलाते हैं। जापान के प्रधानमंत्री शिंजो आबे से उन्होंने 19 सेकंड तक हाथ मिलाया था।

 

भाषण देते वक्त ट्रम्प बाहें खुले रखते हैं। इसका मतलब है कि किसी से मैं कुछ नहीं छिपाता। वे अक्सर बोलते वक्त दाहिने हाथ ही उंगली दिखाते हैं। इससे उनकी ताकत का पता चलता है। बोलते वक्त ट्रम्प किसी की रोकटोक पसंद नहीं करते। मुंह बंद करके हंसना उनका सिग्नेचर स्टाइल है।

दोनों नेताओं की खास बातें

  • ट्रम्प 14 जून को 72 साल के हो रहे हैं। किम 36 साल के हैं।

  • ट्रम्प छोटी ब्रीफिंग में विश्वास रखते हैं, वहीं किम मीटिंग के लिए तैयार होकर आते हैं।ट्रम्प और किम दोनों अपने करीबी रिश्तेदारों पर भरोसा करते हैं। ट्रम्प की बेटी इवांका और किम की बहन किम यो जोंग राजनीतिक रूप से सक्रिय हैं।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

The Rising News

Suggested News

Advertisement

Loading...

Public Poll