Box Office Collection of Dhadak and Student of The Year

दि राइजिंग न्‍यूज

नई दिल्‍ली।

 

झारखंड के हजारीबाग के दोनाई खुर्द में सुरक्षाबलों के साथ माओवादियों की मुठभेड़ हुई। जिसमें दो माओवादी मारे गए हैं। उनके पास से एक एके-47, एक राइफल और 200 राउंड गोलियां बरामद हुई हैं। इससे पहले पिछले साल सितंबर महीने में पुलिस के हत्थे 50 हजार का इनामी माओवादी देवेंद्र चम्याल चढ़ा था। जिसने चुनाव विरोधी पर्चे चिपकाने की बात स्वीकार की थी। उसने इस दौरान ऐसे म‌िशन के बारे में बताया जो पूरे देश को ह‌िला कर रख देती।

 

 

देवेंद्र के साथ पकड़ी गई भगवती भोज तीन साल से उसके संगठन से जुड़ी रही हैं। उन्होंने बताया क‌ि वे देश के अब तक के सबसे बड़े बांध पंचेश्वर बांध विरोधी मिशन पर लगे थे। हालांक‌ि उन्होंने ये बात नहीं बताई क‌ि वे इस म‌िशन पर कहा तक पहुंचे या उनकी प्लान‌िंग क्या थी। लेक‌िन इस बात को सुनकर पुल‌िस भी सकते में आ गई।

 

 

देवेंद्र ने झारखंड में रहकर हथियार चलाने का भी प्रशिक्षण लिया था। उसने 50 हजार के इनामी साथी खीम सिंह बोरा और भाष्कर पांडे सहित अन्य लोगों के बारे में भी अहम जानकारी दी है। डीआईजी पूरन सिंह रावत और एसएसपी जन्मेजय खंडूरी ने पत्रकारों को बताया था कि शनिवार को माओवादियों के मूवमेंट की एक सटीक सूचना पर पुलिस टीम ने नंधौर वैली की ओर जा रही एक बस को रोका था।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement

Loading...

Public Poll