Director Kalpana Lajmi Passed Away

दि राइजिंग न्यूज़

नई दिल्ली।

 

स्कूल में शुरू से ही पढ़ाया गया है कि भारत एक लोकतांत्रिक देश है। हालांकि छत्तीसगढ़ माध्यमिक शिक्षा मंडल की राय इससे विपरीत ही है। दरअसल उनका मानना है कि भारत अलोकतांत्रिक देश है। इस बारे में उस समय मालूम चला जब ओपन स्कूल की परीक्षा में दसवीं बोर्ड के छात्रों से सवाल किया गया था कि भारत लोकतांत्रिक है या फिर अलोकतांत्रिक। कमाल की बात तो ये है कि जिन छात्रों ने भारत को “लोकतांत्रिक” देश बताया उन्हें जीरो नंबर दिए गए और वहीं जिन छात्रों ने “अलोकतांत्रिक” कहा उन्हें पूरे नंबर दिए गए।

शिक्षा मंडल की सफाई

वहीं इस मामले के खुलासे के बाद माध्यमिक शिक्षा मंडल की दलील है कि मॉडल आंसर शीट में गलतियों की वजह से ऐसा हुआ है। इसके बाद शिक्षा मंडल ने मामले की जांच के आदेश दिए हैं। उसने यह भी कहा है कि पेपर सेटर और सुपरवाइजर के खिलाफ कार्रवाई होगी।

ऐसे हुआ खुलासा

दरअसल, परीक्षा में फेल होने और कम नंबर हासिल होने पर कुछ छात्रों ने रिवेल्युशन कराया और अपनी कॉपियां देखीं, तब यह गोलमाल सामने आया। सामाजिक विज्ञान विषय के सेट-C पर्चे में ऑब्जेक्टिव पैटर्न सवालों में इसे शामिल किया गया था। छात्रों के मुताबिक जब उन्होंने आंसर शीट देखी और अलोकतांत्रिक देश बताए जाने वाले विकल्पों पर उनकी नजर गई, तो उनकी आंखे फटी की फटी रह गई। उन्होंने तुरंत इसकी शिकायत ओपन स्कूल परीक्षा के इंचार्ज और गोपनीय शाखा के अधिकारीयों से की।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement