Neha Kakkar Crying gets Emotional in Memories of Ex Boyfriend Himansh Kohli

दि राइजिंग न्‍यूज

मुजफ्फरपुर।

 

शनिवार को सीबीआइ ने मुजफ्फरपुर बालिका गृह कांड के आरोपी ब्रजेश ठाकुर के बेटे को हिरासत में लिया था। जिससे इस पूरे मामले में लंबी पूछताछ की गई। हालांकि, पूछताछ के बाद आज उसे छोड़ दिया गया है।

बता दें कि मुजफ्फरपुर रिमांड होम मामले में सुप्रीम कोर्ट की फटकार के बाद दिल्ली से पूरे दल बल के साथ सीबीआइ की टीम मुजफ्फरपुर पहुंची थी। स्पेशल फोरेंसिक उपकरण लेकर पहुंची टीम ने बालिका गृह का चप्पा-चप्पा छान मारा। कई दस्तावेज जब्त किए। इतना ही नहीं ब्रजेश के बेटे राहुल आनंद को सीबीआइ टीम ने फोन करके बालिका गृह परिसर में बुलाया और उससे लंबी पूछताछ की।

ब्रजेश को रिमांड पर लेने की तैयारी

इसके बाद बालिका गृह परिसर में एक बार फिर शवों को तलाशने के लिए जेसीबी मशीन लाया गया है। कहा जा रहा है कि सीबीआइ इस मामले के मुख्य आरोपी ब्रजेश ठाकुर को रिमांड पर लेने की तैयारी भी कर रही है। रिमांड के लिए अदालत में आवेदन देने से पहले सीबीआइ ने ब्रजेश ठाकुर की मेडिकल रिपोर्ट अपने पास मंगवाई है।

उल्लेखनीय है कि बालिका गृह रेप कांड की जांच की जिम्मेदारी मिलने के बाद सीबीआइ ने अभी तक बालिका गृह का दौरा नहीं किया था। इस बालिका गृह का संचालन ब्रजेश ठाकुर का एनजीओ सेवा संकल्प एवं विकास समिति करती थी। ब्रजेश इस कांड का मुख्य आरोपी है और अभी जेल में बंद है।

कांग्रेस सांसद के साथ ब्रजेश की फोटो वायरल

साहू रोड स्थित इसी कैंपस में ब्रजेश ठाकुर का घर और प्रिंटिंग प्रेस भी है, जिसमें कई अखबार छपते थे। फिलहाल, उसके परिवार के लोग इस कैंपस को छोड़ चुके हैं। इस बीच कांग्रेस सांसद अखिलेश सिंह के साथ भोजन करते ब्रजेश की एक फोटो वायरल होने से राजनीति गरमा गई है।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement