Kareena Kapoor Will Work With SRK and Akshay Kumar in 2019

दि राइजिंग न्यूज़

नई दिल्ली।

 

सीबीआइ ने पंजाब नेशनल बैंक में हुए महाघोटाले के आरोपी भगोड़े नीरव मोदी सहित 25 लोगों के खिलाफ 7500 पन्ने की चार्जशीट दाखिल कर दी है। मुंबई की विशेष अदालत में दायर इस चार्जशीट में इलाहाबाद बैंक की सीईओ और एमडी उषा अनंतसुब्राह्मण्यम का भी नाम है। उषा 2015 से लेकर के 2017 तक पीएनबी की एमडी और सीईओ रही थीं।

सरकार ने शुरू की पद से हटाने कार्रवाई

केंद्र सरकार ने सीबीआइ द्वारा चार्जशीट दायर करने के बाद पीएनबी और इलाहाबाद बैंक को उन सभी लोगों को पद से हटाने का आदेश दे दिया है, जिनका नाम इस महाघोटाले में सामने आ रहा है। एजेंसी ने पीएनबी के दो कार्यकारी निदेशक के वी ब्रह्मजी राव व संजीव शरन और इंटरनेशनल ऑपरेशन के जीएम नेहाल अहद का नाम भी शामिल किया है।

 

नीरव, मेहुल के खिलाफ गैर जमानती वारंट

इससे पहले कोर्ट ने घोटाले के मुख्य आरोपी नीरव मोदी और उसके मामा मेहुल चोकसी के खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी किया है। गौरतलब है कि गीतांजलि जेम्स के प्रवर्तक नीरव मोदी और मेहुल चौकसी ने पीएनबी को 13 हजार करोड़ रुपये का चूना लगाया। कई अन्य जांच एजेंसियों के साथ ही आरबीआइ ने भी मामले की विस्तृत पड़ताल की थी, ताकि दोनों के खिलाफ जरूरी कार्रवाई की जा सके।

आरबीआइ ने रिपोर्ट साझा करने से किया इंकार

भारतीय रिजर्व बैंक ने पंजाब नेशनल बैंक धोखाधड़ी मामले की निरीक्षण रिपोर्ट साझा करने से इनकार कर दिया है। आरबीआइ ने सूचना का अधिकार (आरटीआइ) कानून का हवाला देते हुए कहा कि इससे जांच प्रक्रिया पर असर पड़ सकता है। रिजर्व बैंक ने आरटीआइ आवेदन पंजाब नेशनल बैंक को सौंप दिया है।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement

Loading...

Public Poll