Rani Mukerji to Hoist the National flag at Melbourne Film Festival

दि राइजिंग न्‍यूज

बेंगलुरु।

 

कर्नाटक में कांग्रेस और बीजेपी के बीच जुबानी जंग काफी तेज हो गई है। कर्नाटक के मुख्यमंत्री सिद्धारमैया के आरएसएस और बीजेपी के कार्यकर्ताओं को हिंदू उग्रवादी बताने पर बीजेपी ने पलटवार किया है। बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा ने गुरुवार को प्रेस कांफ्रेंस कर कहा कि कांग्रेस पार्टी का हिंदुओं के प्रति रुख खुल कर सामने आ गया है। इसमें कुछ नया नहीं है।

 

 

उन्‍होंने कहा कि पहले भी कांग्रेस सरकार के दौरान हिंदू आतंकवाद की बात सामने लाई गई थी। अब एक बार फिर कर्नाटक में इस मुद्दे को उठाया जा रहा है। पात्रा ने कहा कि राहुल गांधी जनेऊ पहनकर अस्थाई हिंदू बनने की कोशिश कर रहे है। कांग्रेस की सोच अब सामने आ रही है। पात्रा ने इस दौरान विकीलीक्स द्वारा कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के हिंदू टेरर वाले खुलासे का भी जिक्र किया।

 

 

बता दें कि सिद्धारमैया के इस बयान के बाद बीजेपी फुल एक्शन मोड में आ गई है। राज्य की बीजेपी नेता शोभा करंदलजे ने ऐलान किया है कि बीजेपी कार्यकर्ता शुक्रवार को पूरे कर्नाटक में जेल भरो आंदोलन करेंगे। उन्होंने कहा कि हम सरकार से कहेंगे चूंकि हम बीजेपी और आरएसएस से हैं, इसलिए हमें गिरफ्तार कर लीजिए।

उन्होंने कहा कि कांग्रेस हमारे ऊपर बैन की बात करती है, लेकिन उन्होंने खालिस्तान, उल्फा और लिट्टे का समर्थन किया है। मुख्यमंत्री को अपने बयान पर माफी मांगनी चाहिए।

 

क्या था सिद्धारमैया का बयान?

मुख्‍यमंत्री सिद्धारमैया ने कहा, बीजेपी, आरएसएस और बजरंग दल एक तरह के आतंकवादी हैं। जो भी समाज की शांति को भंग करते हैं। उन्हें सरकार को बर्दाश्त नहीं करना चाहिए। चाहे वो पीएफआइ हो, एसडीपीआइ हो या वीएचपी, आरएसएस। बाद में सिद्धारमैया ने कहा कि मेरा मतलब था कि बीजेपी और आरएसएस एक हिंदू उग्रवादी हैं।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement

Loading...

Public Poll