Ali Asgar Faced Molestation in The Getup of Dadi

दि राइजिंग न्‍यूज

नई दिल्‍ली।

 

श्रीश्री रविशंकर अयोध्‍या में राम मंदिर निर्माण विवाद पर दिए गए अपने बयान के बाद फंस गए हैं। सोमवार को उन्होंने अपने एक बयान में कहा था कि भारत को सीरिया नहीं बनने दीजिए। मंगलवार को एकबार फिर उन्होंने बयान दिया है। उन्होंने कहा कि मैंने कल कोई धमकी नहीं दी थी।

श्रीश्री पिछले कई महीनों से राम मंदिर विवाद वाले मुद्दे को अदालत से बाहर सुलझाए जाने को लेकर प्रयासरत हैं। वह समय-समय पर मुस्लिम संगठनों से मिलकर मामले को अदालत के बाहर सुलझाने पर बात कर रहे हैं। उन्होंने मीडिया से बातचीत में कहा था कि अगर अयोध्या विवाद नहीं सुलझा तो देश सीरिया में बदल जाएगा।

अपने बयान पर दी सफाई

अपने बयान पर जवाब देते हुए रविशंकर ने कहा, वह कोई धमकी थोड़ी ना है, वह तो चेतावनी है। श्री श्री ने यह भी कहा था, भारत में शांति रहने दीजिए। हमारे देश को सीरिया जैसा नहीं बनना चाहिए। ऐसी हरकत यहां हो जाए तो सत्यानाश हो जाएगा।

उन्होंने आज कहा, मैं सपने में भी नहीं सोच सकता कि मैं किसी को धमकी दूं। मैंने कहा था कि हमारे देश में ऐसे हालात उत्पन्न नहीं होने चाहिए जैसे मिडल ईस्ट में हैं, इससे हमें डर लगता है।

ओवैसी ने साधा निशाना

वहीं एआइएमआइएम के नेता और सांसद असदुद्दीन ओवैसी ने कहा कि ऐसा लगता है कि उन्हें (श्रीश्री रविशंकर) अपने संविधान पर विश्वास नहीं है। उसे कानून पर विश्वास नहीं है। वह समझता है कि वह खुद ही कानून है। ओवैसी ने रविशंकर को खूब खरी-खोटी सुनाते हुए कहा कि वह खुद को इतना बड़ा मानता है और यह समझता है कि सभी उसे सुनेंगे। वह राम मंदिर-बाबरी मस्जिद मामले में बिल्कुल निष्पक्ष नहीं है।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement