Baaghi 2 Assistant Director Name Came in Physical Assault

दि राइजिंग न्यूज़

अहमदाबाद।

 

गुजरात विधानसभा चुनाव में भाजपा कई मोर्चों पर चुनौती का सामना कर रही है लेकिन पार्टी अध्यक्ष अमित शाह इन सबसे बेफिक्र नजर आते हैं। शाह कहते हैं कि गुजरात चुनाव में 182 में से 150 सीटें जीतने का एक यथार्थवादी लक्ष्य है।

 

एक अख़बार को दिए इंटरव्यू में अमित शाह ने कहा कि हर चुनावों में ऐसी संभावनाएं सामने आती हैं लेकिन भाजपा तीन-चौथाई बहुमत से विजयी होती रही है। गुजरात के लोगों ने 1995 से भाजपा का समर्थन किया है। अमित शाह ने उम्मीद जताई कि राज्य के लोग विकास के एजेंडा को आगे बढ़ाने के लिए पार्टी पर यकीन बनाए रखेंगे।

राज्य के ग्रामीण इलाकों में पटेल समुदाय की नाराजगी भाजपा को भारी पड़ सकती है। वहीं फसलों के लिए न्यूनतम समर्थन मूल्य जैसे किसानों के कई मुद्दे बने हुए हैं। शहरी इलाकों में जीएसटी और नोटबंदी के मुद्दे छाए हुए हैं। विपक्ष ने चुनाव में इन मुद्दों को प्रमुखता से आवाज दी है, लेकिन अमित शाह इन मुद्दों को महत्वपूर्ण नहीं मानते। उनका मानना है कि कांग्रेस गुजरात में जाति आधारित राजनीति कर रही है और उसने ऐसा पहले भी किया है।

 

शाह के मुताबिक कांग्रेस ने केएसएएम (क्षत्रिय, हरिजन, आदिवासी, मुस्लिम) नीति की शुरुआत की थी जिससे राज्य की जनता सालों तक प्रभावित रही। शाह का मानना है कि गुजरात की जनता ने जाति की राजनीति को नकार दिया है और वे भाजपा के विकास के एजेंडे के साथ हैं। अमित शाह मानते हैं कि जीएसटी के मसले पर नरेंद्र मोदी की सरकार ने सभी संबंधित पक्षों से बातचीत कर लंबित मुद्दों का समाधान कर दिया है।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement