Ayushman Khurrana Wants To Work in Kishore Kumar Biopic

दि राइजिंग न्यूज़

नई दिल्ली।

 

भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह 11 अगस्त को पश्चिम बंगाल के दौरे पर जा रहे हैं। अपने इस दौरे से पहले उन्होंने कहा है कि वह हर महीने कोलकता जाएंगे और वहां तीन दिनों तक रहेंगे। एक इंटरव्यू में उन्होंने इस दौरे से जुड़े कई मुद्दों पर बात की। उन्होंने बताया कि मैं वहां सरकारी आवास या गेस्ट हाउस में रुकने की बजाए एक छोटा सा घर किराए पर लेने की सोच रहा हूं। मुझे और मेरी पार्टी को बंगाल से काफी प्यार मिला है। मैं उसी प्यार को वापस करना चाहता हूं।

 

शाह बताया कि हम बंगाल का विकास चाहते हैं। ममता बनर्जी की सरकार खराब हो चुकी है। वह सीपीएम युग का विस्तार है। हम बेरेजोगार लोगों को नौकरियां देते हैं। उन्होंने दावा किया है कि अगले लोकसभा चुनाव में उन्हें राज्य से 22 सीटें मिलेंगी। इतना ही नहीं उनका कहना है कि वह विधानसभा चुनाव में लोगों के समर्थन से यहां सरकार भी बनाएंगे।

शाह से जब पूछा गया कि क्या आपको लगता है कि आप सत्ता में आएंगे तो उन्होंने कहा, क्या आपने कभी सोचा था कि हम त्रिपुरा में सरकार बनाएंगे। इसी तरह हम बंगाल में भी सफल होंगे। यहां जमीनी स्तर पर भ्रष्टाचार फैल गया है। सामान्य लोगों को सेवाओं का लाभ नहीं मिल रहा है। जब सीपीएम सत्ता में थी तो यहां कोई नौकरी नहीं थी, कोई उद्योग नहीं था। ममता राज में भी वही हो रहा है।

 

ममता द्वारा बार-बार सांप्रदायिकता के आरोप लगाने पर शाह ने कहा कि दरअसल ममता पूरे राज्य के लोगों के बारे में बात नहीं करती हैं। उन्होंने अल्पसंख्यक वोटबैंक की राजनीति खेली, जो कि सभी नागरिकों की समानता के खिलाफ है। हमारा मानना है कि बंगाली और इस साम्राज्य के सभी लोग सांप्रदायिकता के खिलाफ हैं। हम इन लोगों के साथ हैं।

मुस्लिम घुसपैठियों के सवाल पर शाह ने कहा कि हम अवैध निवासियों के खिलाफ हैं। ताकि मेरे देश के वैध नागरिक किसी भी लाभ से वंचित न हो सकें। आरएसएस को लेकर उन्होंने कहा कि वह कोई राजनीतिक संगठन नहीं है लेकिन वह राज्य में कई सामाजिक कार्य कर रहा है।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement