Pregnant Actress Neha Dhupia Shares Her Opinion on Pregnancy

दि राइजिंग न्‍यूज

लखनऊ।

 

मुख्यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ के प्रमुख सचिव एसपी गोयल पर घूसखोरी का आरोप लगाने वाला अभिषेक गुप्ता देर शाम अपने आरोप से मुकर गया। उसने लिखित माफीनामा में हस्ताक्षर करते हुए प्रमुख सचिव पर लगाए गए अपने आरोप वापस ले लिए। माफीनामा अभिषेक के नाना ओम प्रकाश गुप्ता की ओर से दिया गया है।

मानसिक स्थिति है खराब

माफीनामा में अभिषेक के नाना ने उसकी मानसिक स्थित ठीक न होने का हवाला दिया है। उन्होंने कहा कि मेरे नाती ने एक करोड़ का लोन ले रखा है, जिसकी एक लाख रुपए महीना किस्त आ रही है। हरदोई रोड स्थित पेट्रोल पंप के सामने की जमीन को विनिमय करने की पत्रावली शासन की ओर से निरस्त होने की वजह से अभिषेक की मानसिक स्थित खराब हो गई।

इसी बौखलाहट में उसने प्रमुख सचिव एसपी गोयल पर पत्रावली पास कराने के लिए 25 लाख रुपए मांगने का गलत आरोप लगा दिया।

राज्‍यपाल को भेजा था ई-मेल

गौरतलब है कि अभिषेक ने राज्यपाल को ई-मेल भेजकर शिकायत की थी। इसमें उसने मुख्यमंत्री के प्रमुख सचिव एसपी गोयल पर 25 लाख रुपये रिश्वत मांगने का सनसनीखेज आरोप लगाया था। राज्यपाल ने अभिषेक की शिकायत पर मुख्यमंत्री को पत्र लिखकर उसकी मदद के लिए कहा था।

पूछताछ के बाद देर शाम आरोप लिए वापस

वहीं, गुरुवार को भाजपा के प्रदेश कार्यालय प्रभारी भारत दीक्षित ने अभिषेक के खिलाफ भाजपा नेताओं का नाम लेकर मुख्यमंत्री कार्यालय में तैनात अधिकारियों पर अनुचित काम करने का दबाव बनाने के आरोप में हजरतगंज थाने में एफआइआर दर्ज करायी थी। इस मामले में शुक्रवार सुबह करीब 11 बजे पुलिस ने पूछताछ के लिए अभिषक को हिरासत में लिया था। देर शाम तक पुलिस हिरासत में रहने के बाद अभिषेक ने अपने आरोप वापस ले लिए।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement