Home Top News Aadhar Card Number Will Be Necessary For Driving License

प्रद्युमन मर्डर केेेेस: कंडक्‍टर अशोक रिहा

चारा घोटाला: झारखंड के पूर्व मुख्य सचिव सजल चक्रवर्ती को 5 साल की कैद

J-K: केरन सेक्टर में घुसपैठ नाकाम, एक आतंकवादी को मार गिराया

पाकिस्तान: गुरुवार को रिहा हो जाएगा हाफिज सईद

27-29 नवंबर तक रूस दौरे पर होंगे गृहमंत्री राजनाथ सिंह

ड्राइविंग लाइसेंस चाहिए तो आधार दिखाइए  

Home | 16-Sep-2017 11:08:08 AM | Posted by - Admin

   
Aadhar Card Number will be Necessary for Driving License

दि राइजिंग न्यूज़

नई दिल्ली।

 

जल्दी ही ड्राइविंग लाइसेंस लेने के लिए आपको अपना आधार नबंर बताना पड़ सकता है। केन्द्रीय इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रोद्योगिकी मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा है कि सरकार ड्राइविंग लाइसेंस को आधार कार्ड से लिंक करने जा रही है। अगर आपके पास आधार कार्ड नहीं है तो आप ड्राइविंग लाइसेंस नहीं ले पाएंगे। सरकार के इस कदम का मकसद फर्जी ड्राइविंग लाइसेंस जारी करने पर रोक लगाना है।

आधार कार्ड से जुड़े होने की वजह से आपके सारे बॉयोमैट्रिक डिटेल सरकारी एजेंसियां ड्राइविंग लाइसेंस से पता कर सकेंगी। इस वजह से अगर कोई शख्स दो ड्राइविंग लाइसेंस बनाना चाहता है तो उसकी चोरी पकड़ी जाएगी। रविशंकर प्रसाद ने आज एक कार्यक्रम में सरकार के इस प्रस्तावित फैसले की जानकारी दी। रविशंकर प्रसाद ने कहा, “हम लोग ड्राइविंग लाइसेंस को आधार से लिंक करने पर विचार कर रहे हैं, मैंने इस बारे में नितिन गडकरी से बात की है।”  

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक केन्द्र सरकार अगले महीने इस प्रस्ताव को अमली जामा पहना सकती है। बता दें कि पहले अगर किसी का ड्राइविंग लाइसेंस ट्रैफिक नियमों के उल्लंघन या फिर आपराधिक गतिविधियों में शामिल रहने पर रद्द कर दिया जाता था। तो ऐसे लोग देश के दूसरे इलाके से फिर ड्राइविंग लाइसेंस बनवा लेते थे। कई ड्राइविंग लाइसेंस हासिल कर आपराधिक प्रवृति के व्यक्ति अपनी पहचान छुपाने में भी कामयाब हो जाते थे। लेकिन आधार नंबर का बॉयोमैट्रिक डिटेल ऐसी हर किसी धोखाधड़ी पर रोक लगाने में सफल हो सकेगा। सरकार का ऐसा मानना है।

एक रिपोर्ट के मुताबिक केन्द्रीय भूतल परिवहन मंत्रालय ने इस प्रस्ताव पर काम करना शुरू कर दिया है। और इसके लिए कानूनी प्रावधानों में जरूरी बदलाव किये जा रहे हैं। चूंकि ड्राइविंग लाइसेंस जारी करना राज्य की विषय वस्तु है। इसलिए केन्द्र सभी राज्यों से अपील करेगा कि वो इस सुरक्षित सिस्टम को अपनाएं। सरकार का दावा है कि इस सिस्टम की वजह से एक व्यक्ति द्वारा देश के अलग अलग राज्यों में अलग अलग रिजनल ट्रांसपोर्ट ऑफिस से लाइसेंस हासिल करने की गलत प्रथा पर रोक लग जाएगी।

"जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555



संबंधित खबरें



HTML Comment Box is loading comments...

Content is loading...




TraffBoost.NET

Rising Stroke caricature
The Rising News Public Poll


What-Should-our-Attitude-be-Towards-China


Photo Gallery
गोमती तट पर दीप आरती करती महिलाएं। फोटो- अभय वर्मा



Flicker News

Most read news

 


Most read news


Most read news


sex education news