Box Office Collection of Raazi

दि राइजिंग न्‍यूज

कानपुर।

 

देर रात एलएलआर हैलट के मेडिसिन विभाग में आइसीयू के एसी खराब हो जाने से 24 घंटे के अंदर चार मरीजों की मौत हो गई। जिसके बाद आइसीयू में भर्ती अन्य मरीज और उनके तीमारदार आक्रोशित हो उठे। वहीं, अस्पताल प्रशासन ने एसी बंद होने के कारण मौत होने से इंकार किया है। मामला संज्ञान में आते ही जिला प्रशासन ने तत्काल एसी लगवाने का आदेश दिया है।

जानकारी के मुताबिक हैलट अस्पताल के आइसीयू में पिछले कुछ दिनों से एसी प्लांट में समस्या आ रही थी, जिसके बाद बुधवार रात आइसीयू के दोनों एसी बंद हो गए और फिर गर्मी के कारण आइसीयू के सभी उपकरणों ने भी काम करना बंद कर दिया। इसके बाद भीषण गर्मी की वजह से आइसीयू में भर्ती गंभीर मरीजों की हालत और भी बिगड़ गई। देखते ही देखते 24 घंटे के अंदर आइसीयू में भर्ती चार मरीजों ने दम तोड़ दिया। जिन मरीजों की मौत हुई है उनमें नाम मुरारी, गया प्रसाद, रसूलबक्शी और इंद्रपाल हैं।

 

 

एसी खराब होने से मरीजों की मौत से अस्‍पताल प्रशासन का इंकार

वहीं, मरीजों की हुई मौत के बाद अस्पताल प्रशासन के हाथ-पांव फूल गए। इन मौतों की सूचना के बाद अन्य भर्ती मरीज और उनके तीमारदार भड़क उठे। तीमारदारों के भड़कने के बाद देर रात डॉक्टर नवनीत कुमार, प्रमुख अधीक्षक डॉक्टर आरसी गुप्ता, ईएमओ विनय आइसीयू पहुंच गए। हालांकि, अस्पताल प्रशासन ने एसी खराब होने से हुई मौतों से इनकार किया है।

डॉक्टर नवनीत कुमार ने बताया कि गुरुवार सुबह से चार मरीजों की मौत हुई है, जिसमें दो को कार्डिएक अरेस्ट और दो जो पहले से ही सीरियस थे। एसी का ईसू था, लेकिन इनकी मौतों का इससे कोई संबंध नहीं है।

 

 

अस्‍पताल पहुंचे एडीएम सिटी

मेडिसिन आइसीयू प्रभारी सौरभ अग्रवाल का कहना है कि आइसीयू में गंभीर मरीज ही आते हैं, लेकिन इनकी मौत का कारण एसी खराब होना नहीं है। वहीं, मामला संज्ञान में आते ही देर रात डीएम के निर्देश पर एडीएम सिटी सतीश पाल अस्पताल पहुंच गए। जहां उन्होंने अस्पताल की हालत देखकर मेडिकल कॉलेज प्रशासन से पूरे मामले की रिपोर्ट मांगी।

एडीएम सिटी सतीश पाल ने बताया कि बुधवार रात से गुरुवार तक चार मौतें हुई हैं। मामले की जांच कराई जाएगी। डीएम ने देर रात ही दो एसी लगवाने और प्लांट तत्काल ठीक कराने का आदेश दे दिया है।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement

Loading...

Public Poll