Watch Making of Dilbar Song From Satyameva Jayate

दि राइजिंग न्यूज़

नई दिल्ली

 

उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ के गृह जिले गोरखपुर में दर्दनाक घटना हो गई है। यहां पर बीआरडी मेडिकल कॉलेज अस्पताल में ऑक्सीजन सप्लाई ठप होने के कारण 30 बच्चों की मौत हो गई है।

 

गौर करने वाली बात यह है कि इस मेडिकल कॉलेज में ऑक्सीजन सप्लाई ठप होने से दो दिन में तीस बच्चों की मौत के बाद अब सियासी खेल शुरू हो गए हैं। जहां एक ओर अस्पताल, ऑक्सीजन की कमी से इनकार कर रहा है तो वहीँ दूसरी  तरफ प्रदेश सरकार के मेडिकल शिक्षा मंत्री ने कहा है कि 24 घंटे में जांच करके सच सामने लाएंगे।

 

प्रदेश के पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने ट्वीट करके कहां कि मृतकों के परिजनों को लाश देकर भगा दिया गया, मृतक का पोस्टमार्टम तक नहीं हुआ है, भर्ती कार्ड भी गायब कर दिया गया है। अत्यन्त दुखद।

 

उन्होंने मृतकों के परिवार वालों को 20-20 लाख रुपये मुआवजा देने की भी मांग की।

 

गुलाम नबी आजाद और प्रदेश अध्यक्ष राज बब्बर समेत दस बड़े नेता कल गोरखपुर में मेडिकल कालेज पहुंचकर हालात का जायजा लेंगे। अखिलेश यादव ने इन मौतों के लिए सरकार को ज़िम्मेदार ठहराया है।

 

वहीं कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने भी शोकाकुल परिवारों को सांत्वना दी और घटना के लिए यूपी की बीजेपी सरकार को दोषी ठहराया।

 

बकाया न चुकाने के चलते ऑक्सीजन फर्म ने की सप्लाई बंद


 

बताया जा रहा है कि 66 लाख रुपये का भुगतान न होने की वजह से ऑक्सीजन सप्लाई करने वाली फर्म ने सप्लाई कल यानी गुरुवार रात से ठप कर दी। लिक्विड ऑक्सीजन तो गुरुवार से ही बंद थी और आज सारे सिलेंडर भी खत्म हो गए। इंसेफेलाइटिस वार्ड में मरीजों ने दो घंटे तक अम्बू बैग का सहारा लिया।

 

लापरवाही के चलते गई इतनी जानें

 


मेडिकल कॉलेज में ऑक्सीजन सप्लाई करने वाली कंपनी का नाम पुष्पा एंड संस बताया जा रहा है। कई रिपोर्टस के मुताबिक मेडिकल कॉलेज में सेंट्रल पाइप लाइन से लिक्विड ऑक्सीजन की सप्लाई की जाती है पर बुधवार से ऑक्सीजन की सप्लाई रोक दी गई थी।

 

अस्पताल के आइसीयू और दूसरे वार्डों में कल रात 11:30 बजे से ही ऑक्सीजन सप्लाई में रुकावट आ गई थी जो आज सुबह नौ बजे तक लगातार बाधित होती रही। साफ है कि सप्लाई रूकने की बात पहले से पता होने के बावजूद ऑक्सीजन सप्लाई के लिए कोई इंतजाम नहीं हुआ। इसी ऑक्सीजन सप्लाई के कई बार रुकते रहने से 30 मासूम जानों को हाथ से धोना पड़ा।

 

नौ अगस्त को ही सीएम योगी ने किया था अस्पताल का दौरा
 

गौरतलब है कि जिस अस्पताल में बच्चों की मौत हुई है उसका दौरा 9 अगस्त को ही योगी ने किया था।

 

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement

Loading...

Public Poll