Actress Alia Bhatt Reaction on Dating Ranbir Kapoor

दि राइजिंग न्यूज़

शिमला।

 

हिमाचल के पूर्व मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह ने कहा है कि सूबे के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर अगर जनता की भलाई के लिए कार्य करेंगे तो सत्ता में तैरते रहेंगे। वरना गोते खाएंगे। उन्होंने कहा कि अभी सरकार बने कुछ दिन ही हुए हैं। प्रदेश में हजारों कर्मचारियों के तबादले किए गए हैं।

 

जबकि कई शिक्षण संस्थान बंद करने की तैयारी चल रही है। ऐसा हुआ तो बड़ा आंदोलन छेड़ा जाएगा। लोग चुप नहीं बैठने वाले। पूर्व सीएम रेणुका विधानसभा के विधायक विनय कुमार की ओर से जीत की खुशी में रखे गए प्रीति भोज में जनता को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार जंजैहली में हुए उग्र आंदोलन का सामना कर चुकी है।

यदि शिक्षण संस्थान बंद किए गए तो जनता उन्हें माफ नहीं करेगी। उनके कार्यकाल में बोगधार में खोले गए पॉलीटेक्नीक कॉलेज व ददाहू कॉलेज को बंद करना बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। इनकी कक्षाएं शीघ्र शुरू की जानी चाहिए। पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि उनका ग्रामीण क्षेत्रों में शिक्षण संस्थान खोलने का मकसद गांव की बेटियों को घर-द्वार पर उच्च शिक्षा देना था।

 

उन्होंने आगे कहा कि आज प्रदेश में जो विकास हुआ है वह कांग्रेस पार्टी की देन है। हिमाचल को बनाने में बड़े नेताओं का आशीर्वाद रहा है। इंदिरा गांधी और लाल बहादुर शास्त्री ने इसमें अहम भूमिका निभाई है। अन्यथा हिमाचल अस्तित्व में ही नहीं आता। उन्होंने कहा कि रेणुका का विकास भी कांग्रेस की देन है। भाजपा इतना विकास करके दिखाए।

पूर्व सीएम ने कहा कि हमने प्रदेश में शिक्षण संस्थान व स्कूल रेवड़ियां बांटने की तरह खोले हैं। लेकिन कांग्रेस की मंशा शिक्षित समाज बनाकर उसको आगे ले जाने की है। शिक्षण संस्थानों को बंद करना एक ओछी राजनीति है।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement