Home Top News Once Again Petrol Diesel Price Hiked After Karnataka Elections Over

पाकिस्तान ने ईद की छुट्टियों के दौरान भारतीय फिल्मों के प्रसारण पर रोक लगाई

मुजफ्फरनगरः दूध पिलाती मां और बेटी को सांप ने काटा, दोनों की मौत

कर्नाटकः विधानसभा पहुंचे प्रोटेम स्पीकर

कर्नाटकः पुलिस कमिश्नर भी विधानसभा पहुंचे, अंदर भारी सुरक्षा व्यवस्था

कनाडाः भारतीय रेस्तरां में धमाका, CCTV फुटेज में दिखे 2 संदिग्ध

पेट्रोल-डीजल के दामों में फिर से लगी आग

Home | Last Updated : May 14, 2018 11:23 AM IST

 Once Again Petrol Diesel Price Hiked After Karnataka Elections Over


दि राइजिंग न्यूज़

बंगलुरु।

 

कर्नाटक विधानसभा चुनाव की वोटिंग पूरी होने के बाद ही तेल कंपनियों ने पेट्रोल-डीजल के दामों में फिर से बढ़ोतरी करना शुरू कर दिया है। सोमवार को 19 दिनों से पेट्रोल-डीजल के दामों में बढ़ोतरी नहीं करने के बाद यह कदम कंपनियों ने उठाया है।

82 के पार हुआ पेट्रोल

तेल कंपनियों ने पेट्रोल के दामों में 17 पैसे की बढ़ोतरी कर दी है। आखिरी बार तेल कंपनियों ने 24 अप्रैल को पेट्रोल के दाम में बढ़ोतरी की थी। चार महानगरों की बात करें तो मुंबई में सबसे ज्यादा पेट्रोल के दाम हो गए हैं। यहां पेट्रोल 82.56 रुपए हो गया है। वहीं दिल्ली में 74.80 रुपए, कोलकाता में 77.50 रुपए और चेन्नई में 77.61 रुपए प्रति लीटर हो गया है।

 

वहीं अगर एनसीआर रीजन की बात करें तो नोएडा में सबसे महंगा पेट्रोल है। यहां पर यह 76.02 रुपए हो गया है। फरीदाबाद में 75.58 रुपए, गुड़गांव में 75.34 रुपए और गाजियाबाद में 75.90 रुपए प्रति लीटर है।

मुंबई में ही सबसे महंगा डीजल

इंडियन ऑयल की वेबसाइट के अनुसार देश के चार महानगरों में सबसे महंगा डीजल भी मुंबई में है। यह यहां पर 70.43 रुपए है। वहीं दिल्ली में 66.14 रुपए, कोलकाता में 68.68 रुपए और चेन्नई में यह 69.79 रुपए प्रति लीटर है। एनसीआर रीजन में डीजल सबसे महंगा डीजल फरीदाबाद में और सबसे सस्ता गाजियाबाद में है। फरीदाबाद में डीजल 67.26 रुपए, गुड़गांव में 67.03 रुपए, नोएडा में 66.32 रुपए और गाजियाबाद में यह 66.19 रुपए है।

 

ईरान पर प्रतिबंध से पड़ेगा असर

इराक और साऊदी अरब के बाद ईरान कच्चे तेल का भारत में सबसे बड़ा सप्लायर है। प्रतिबंध लगने के बाद पूरी दुनिया में कच्चे तेल का दाम काफी बढ़ सकते हैं। डॉलर के मुकाबले रुपया लगातार गिरता जा रहा है, जिसके चलते भारत सरकार पर बोझ बढ़ेगा। कच्चे तेल की कीमत भी इस वक्त 70 डॉलर प्रति बैरल के बीच चल रही हैं। फरवरी में भारत यात्रा पर आए ईरान के राष्ट्रपति हसन रूहानी के बाद भारत ने कच्चे तेल के आयात को बढ़ा दिया था।

आप पर पड़ेगा यह असर

अगर कच्चा तेल और महंगा होता तो फिर देश में पेट्रोल-डीजल का दाम भी बढ़ जाएगा, जिससे आम लोगों के दैनिक जीवन पर काफी असर पड़ेगा। डीजल बढ़ने से जहां शहरों में दूध, फल, सब्जियां महंगी हो जाएंगी, वहीं दूसरी तरफ आना-जाना भी बढ़ जाएगा। 



" जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555 "


Loading...


Flicker News

Loading...

Most read news


Most read news


rising@8AM


Loading...