Actress katrina Kaif and Mouni Roy Visited Durga Puja Pandal

दि राइजिंग न्यूज़

नई दिल्ली।

 

कांग्रस से बर्खास्त चल रहे मणिशंकर अय्यर ने फिर एक बार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा है। अपने विवादित बोल के चलते अय्यर को पहले ही कांग्रेस से बाहर का रास्ता दिखा दिया गया है लेकिन प्रधानमंत्री पर उनके तंज हैं कि रुकने का नाम ही नहीं ले रहे।

 

इस बार मणिशंकर अय्यर ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर गुजरात दंगे के संदर्भ में बयान दिया है। उन्होंने फिर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर सांप्रदायिक हमला बोलते हुए कहा कि गुजरात दंगे के दौरान वो बतौर मुख्यमंत्री पक्षपात करते रहे। अय्यर ने कहा कि दंगों में पीड़ित मुसलमानों का उन्होंने हालचाल भी नहीं लिया। 24 दिनों के बाद अटल जी के आने पर वो मुसलमानों के रिफ्यूजी कैंप पहुंचे थे।

रिपोर्ट्स के मुताबिक, कांग्रेस से निष्कासित नेता मणिशंकर अय्यर ने शनिवार को इंडिया इंटरनेशनल सेंटर में आयोजित एक कार्यक्रम के दौरान कहा कि उन्होंने कभी नहीं सोचा था कि मुसलमानों को पपी (कुत्ते का बच्चा) कहने वाला व्यक्ति प्रधानमंत्री की कुर्सी पर बैठ जाएगा। अय्यर ने कहा, “2014 से पहले मैंने नहीं सोचा था कि एक ऐसा मुख्यमंत्री जो मुसलमानों को पिल्ले (कुत्ते का बच्चा) समझता हो, वो देश का नेतृत्व करेगा। मोदी से जब पूछा गया कि क्या आपको दुख है कि 2002 में इतने मुसलमानों को जान की कुर्बानी देनी पड़ी तो उन्होंने कहा कि एक पिल्ला भी गाड़ी के नीचे आ जाए तो दिल में कुछ चोट लगता है।” अय्यर ने आगे कहा, “मैंने सोचा कि जिस आदमी ने ऐसा कहा, जो 24 दिन मुसलमानों के रिफ्यूजी कैंप में नहीं गया और अहमदाबाद मस्जिद भी उस दिन पहुंचा जब तत्कालीन प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी आये, क्योंकि उनके साथ जाना मजबूरी थी। सोचा ही नहीं था कि ऐसा एक व्यक्ति देश का प्रधानमंत्री बन सकता है।”

 

इस दौरान अय्यर ने धर्मनिरपेक्षता के प्रचार-प्रसार में पूर्व प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू के योगदान की सराहना की। उन्होंने कहा, “हमारे पहले प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू ने हमें राष्ट्रवाद की सही परिभाषा बताई। मैंने उनसे सीखा कि बहुसंख्यक सांप्रदायिकता से अल्पसंख्यक सांप्रदायिकता बेहतर है। उन्होंने हमें बताया कि हम या तो धर्मनिर्पेक्ष हो सकते हैं या फिर देश भी नहीं हो सकते।” उन्होंने आगे कहा, मुझे हिन्दू, बुद्धिस्ट, जैन, इसाई धर्म के लोगों पर गर्व है और मुझे मुस्लिमों पर बहुत गर्व है। मुस्लिमों ने भारत पर 666 साल राज किया। 1152 के मुहम्मद गोरी से लेकर 1858 के बहादुर शाह जफर तक, मुस्लिमों ने भारत पर शासन किया लेकिन हम एक बड़ा राष्ट्र बने रहे। इस दौरान 24 फीसदी हिन्दूओं ने इस्लाम धर्म अपनाया और 76 फीसदी हिन्दू अपने धर्म के साथ ही रहे। दिलचस्प बात ये है कि 1152 से लेकर 1858 तक 706 साल होते हैं, जबकि अय्यर ने 666 साल कहा।

 

याद दिला दें कि गुजरात चुनाव के दौरान मणिशंकर अय्यर ने पीएम मोदी को नीच इंसान बता दिया था। इसके बाद पीएम मोदी ने गुजरात में एक जनसभा में इसका जवाब देते हुए कहा था कि आपने हमें नीच कहा, निचली जाति का कहा। अय्यर के इस बयान से कांग्रेस भारी दबाव में आ गई थी, जिसके चलते मणिशंकर को पार्टी से बर्खास्त कर दिया गया था।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement