Baaghi 2 Assistant Director Name Came in Physical Assault

दि राइजिंग न्यूज़

गांधीनगर।

 

दिल्ली हाईकोर्ट ने देश के राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की समाधि (राजघाट) पर दान पात्र रखे जाने पर कड़ी फटकार लगाई है। कोर्ट ने इसे राष्ट्रपिता का अपमान बताया है।

 

कार्यवाहक मुख्य न्यायाधीश की खंडपीठ ने राजघाट समाधि समिति से सवाल करते हुए पूछा कि दान पात्र किसने लगवाया है और उसमें जमा होने वाला पैसा कहां जाता हैं। केंद्रीय लोक निर्माण विभाग ने कोर्ट को बताया कि यह दान पात्र हरिजन सेवक संघ ने लगाया है।

इस संस्था की शुरुआत खुद गांधी जी ने की थी और जमा होने वाला पैसा इस संस्था को दिया जाता है। कोर्ट ने कहा कि दान पात्र को महात्मा गांधी की समाधि पर नहीं रखा जाना चाहिए। समाधि का सम्मान होना चाहिए और उसकी उचित देखभाल होनी चाहिए।

 

मामले की तारीख

 

खंडपीठ ने याची के वकील को खुद राजघाट की देखभाल व नागरिक सुविधाओं का जायजा लेने और केंद्रीय लोक निर्माण विभाग के मुख्य अभियंता को बताने के लिये कहा है। मुख्य अभियंता इन्हें ठीक करवाएगा।

कोर्ट ने नागरिक सुविधाओं से जुड़ी शिकायतों को शीघ्र सुनने और उनका निबटारा करने का निर्देश राजघाट समाधि समिति को दिया है। कोर्ट ने मामले की तारीख 30 जनवरी तय करते हुए उससे पहले रिपोर्ट पेश करने का निर्देश दिया है।

 

गौरतलब है कि कोर्ट ने राजघाट पर सार्वजनिक सुविधाओं की स्थिति खराब होने की जानकारी सामने आने के बाद केंद्रीय लोक निर्माण विभाग के मुख्य अभियंता को निरीक्षण करने का निर्देश 24 नवंबर को दिया था।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement