Neha Kakkar First Time Respond On Question Of Ex Boyfriend Himansh Kohli

दि राइजिंग न्यूज़

आउटपुट डेस्क।

गूगल की वीडियो प्लेटफॉर्म कंपनी YouTube भ्रामक सूचनाओं पर शिकंजा कसने और समाचार संगठनों की मदद के लिए खबर की सच्चाई परखने के लिए कई कदम उठा रही है। इसके अलावा कंपनी इन चुनौतियों से मुकाबला करने के लिए 2.5 करोड़ डॉलर का निवेश भी करेगी। कंपनी ने कहा कि वह समाचार स्रोतों को और अधिक “विश्वसनीय” बनाएगी, खासतौर से ब्रेकिंग न्यूज के मामले में एहतियत बरतेगी जहां गलत सूचनाएं आसानी से फैल सकती हैं। 

इसी क्रम में, यूट्यूब वीडियो सर्च रिजल्ट में वीडियो और उससे जुड़ी खबर का एक छोटा- सा विवरण यूजर्स को दिखाना शुरू करेगा। इसी के साथ चेतावनी भी देगा कि ये खबरें बदल सकती हैं। इसका उद्देश्य फर्जी वीडियो पर रोक लगाना है जो कि गोलीबारी, प्राकृतिक आपदा और अन्य प्रमुख घटनाओं के मामले में तेजी से फैल सकती हैं।  यूट्यूब ने कहा कि वह अपने प्लेटफॉर्म पर खबरों में सुधार और भ्रामक सूचनाएं जैसी “गंभीर चुनौतियों” से निपटने के लिए अगले कुछ वर्षों में 2.5 करोड़ डॉलर का निवेश करेगा। इसमें दुनिया भर के समाचार संगठनों में “टिकाऊ और बेहतर वीडियो संचालन” स्थापित करने के लिए कर्मचारी प्रशिक्षण और वीडियो प्रोडेक्शन सुविधा में सुधार जैसे चीजें शामिल हैं।

 

 

https://www.therisingnews.com/?utm_medium=thepizzaking_notification&utm_source=web&utm_campaign=web_thepizzaking&notification_source=thepizzaking

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement