Home Technology News Hackers Can Hack Your Screen At Any Time

BJP और खुद PM भी राहुल गांधी का मुकाबला करने में असमर्थ: गुलाम नबी आजाद

जायरा वसीम छेड़छाड़ केस: आरोपी 13 दिसंबर तक पुलिस हिरासत में

J-K: शोपियां में केश वैन पर आतंकी हमला, 2 सुरक्षाकर्मी घायल

महाराष्ट्र: ठाने के भीम नगर इलाके में सिलेंडर फटने से लगी आग

गुजरात: दूसरे चरण के चुनाव के लिए प्रचार का कल आखिरी दिन

आपकी स्क्रीन कब कोई रिकॉर्ड कर ले कुछ नहीं पता!

technology | 21-Nov-2017 14:00:21 | Posted by - Admin
   
hackers can hack your Screen at any Time

दि राइजिंग न्यूज़

गैजेट डेस्क।

 

एंड्रॉयड स्मार्टफोन पर मैलवेयर अटैक नया नहीं है। हालांकि ज्यादातर अटैक वैसे एंड्रॉयड स्मार्टफोन्स पर होते हैं जिनमें पुराने वर्जन के मोबाइल ओएस होते हैं लेकिन एक ऐसी प्रॉब्लम है जिसकी वजह से लेटेस्ट एंड्रॉयड जैसे नूगट, मार्शमैलो और लॉलीपॉप एंड्रॉयड यूजर्स को परेशान कर सकती है।

 

रिपोर्ट के मुताबिक तीन चौथाई से ज्यादा एंड्रॉयड स्मार्टफोन में एक खामी है जिसका फायदा उठा कर हैकर्स/अटैकर्स आसानी से स्क्रीन और ऑडियो रिकॉर्ड कर सकते हैं। अब ये काफी गंभीर है और चौंकाने वाला भी, क्योंकि अगर किसी ने आपके स्मार्टफोन की स्क्रीन और ऑडियो रिकॉर्ड कर ली है तो काफी मुश्किल हो सकती है आपको। 

एंड्रॉयड के कुछ वर्जन जैसे लॉलीपॉप, मार्शमैलो और नूगट में मीडियाप्रोजेक्शन सर्विस दी गई होती है और इसे ही इस्तेमाल करके अटैकर्स आपके स्मार्टफोन में सेंध लगा सकते हैं। हालांकि अच्छी बात ये है कि एंड्रॉयड के लेटेस्ट वर्जन यानी Oreo में यह खामी नहीं है, लेकिन अभी दुनिया में कुछ ही ऐसे स्मार्टफोन्स में है जिनमें Oreo दिया गया है।

 

MWR लैब्स के सिक्योरिटी रिसर्चर्स ने यह पाया है कि

 

कभी भी आपके मोबाइल की स्क्रीन रिकॉर्ड होने से पहले आपको एक पॉप अप मिलता है जिसमें बताया जाता है कि स्क्रीन रिकॉर्डिंग शुरू होने वाली है लेकिन MWR सिक्योरिटी रिसर्चर्स ने पाया है कि एंड्रॉयड की इस खामी की वजह से अटैकर उस पॉप अप में कुछ टेक्स्ट जोड़ कर ऐसा बना सकते हैं जिससे आपको अंदाजा भी नहीं होगा कि आपके स्मार्टफोन की स्क्रीन रिकॉर्ड हो रही है। 

एंड्रॉयड में दिया गया मीडियाप्रोजेक्शन सर्विस काफी पहले से है, लेकिन गूगल ने लॉलीपॉप के साथ इसे सभी के लिए ओपन कर दिया था और इसे यूजर परमिशन से सिक्योर भी नहीं किया। MWR लैब्स ने इस बारे में विस्तार से बताया है कि आखिर यह काम कैसे करता है और इसके दूसरे खतरे क्या हैं। इस एजेंसी के मुताबिक फिलहाल साफ नहीं है कि गूगल इसे ठीक करने के लिए कब तक पैच लाता है। गूगल ने इसो मामले पर अभी तक कुछ भी नहीं कहा है।

"जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555








TraffBoost.NET

Rising Stroke caricature
The Rising News Public Poll





Flicker News

Most read news

 


Most read news


Most read news




sex education news