Home Technology News Downloading Speed With 4G Will Increase Soon

ग्वालियरः ट्रेन में लगी आग में 33 डिप्टी कलेक्टर ट्रेनिंग करके लौट रहे थे, यात्री सुरक्षित

दिल्ली: लैंडफिल साइट्स को लेकर NGT ने सुनवाई जुलाई तक टाली

ओडिशा: ब्रह्मोस मिसाइल का सफलता परीक्षण किया गया

J-K: अरनिया में गोलीबारी बंद, इलाके में यातायात बहाल

उन्नाव रेप केस: 30 मई को होगी मामले की अगली सुनवाई

ग्राहकों की टेंशन होगी खत्म, अब जल्द बढ़ेगी Downloading Speed

technology | Last Updated : May 12, 2018 03:58 PM IST

Downloading Speed With 4G Will Increase Soon


दि राइजिंग न्‍यूज

गैजेट्स डेस्‍क।

 

अगर आपने 4जी मोबाइल लेने के साथ ही 4जी सेवाएं ली हैं बावजूद इसके डेटा स्पीड धीमी है, तो इस परेशानी से आपको जल्द निजात मिलने वाली है। दूरसंचार विभाग ने इस समस्या से ग्राहकों को निजात दिलाने के लिए स्पेक्ट्रम हार्मोनाइजेशन को मंजूरी दे दी है। अब सेवा प्रदाता को डाटा मुहैया कराने में लंबा रास्ता नहीं अपनाना होगा, जिससे स्पीड और डाउनलोडिंग की रफ्तार बढ़ जाएगी। 

दूरसंचार विभाग के अनुसार, हार्मोनाइजेशन को हरी झंडी मिलने से सेवा प्रदाता कंपनियां 4जी सेवाओं में गुणवत्ता और स्पीड को अच्छा कर सकेंगे। हार्मोनाइजेशन के तहत सभी सेवा प्रदाता स्पेक्ट्रम को एक ही रास्ते पर सामंजस्य के जरिए चलाएंगे।

सेवा प्रदाता कंपनियों को भी मिलेगा फायदा

मौजूदा समय में सभी को अलग रास्ते अपनाने पड़ते हैं। ऐसे में किसी क्षेत्र में कोई कंपनी अच्छा प्रदर्शन करती है, जबकि दूसरे स्थान पर वही कंपनी बेहतर सेवाएं नहीं मुहैया करा पाती। हार्मोनाइजेशन को हरी झंडी मिलने का लाभ ग्राहक ही नहीं, सेवा प्रदाता कंपनियों को भी मिलेगा। विभाग के फैसले से 2,300 और 2,500 मेगाहर्ट्ज बैंड के स्पेक्ट्रम का हार्मोनाइजेशन होगा।

देश में भारती एयरटेल और रिलायंस जियो के पास 2,300 मेगाहर्ट्ज बैंड हैं। जियो के पास 22 सर्कल में कुल 600 मेगाहर्ट्ज स्पेक्ट्रम है और भारती के पास इतने ही सर्कल में 570 मेगाहर्ट्ज स्पेक्ट्रम है। जबकि अन्य कंपनियों के पास इस पैमाने पर बैंड के स्पेक्ट्रम नहीं हैं। दरअसल, इन दोनों कंपनियों ने ही नीलामी में यह स्पेक्ट्रम बैंड खरीदा था और इसी में वह अपनी 4जी सेवाएं देती हैं।

डाउनलोड स्‍पीड में जियो ने मारी थी बाजी

दूरसंचार मामलों के विशेषज्ञ अरुण प्रधान के मुताबिक, विभाग ने ग्राहकों और सेवा प्रदाता कंपनियों, दोनों की मुश्किलें हल कर दी हैं। इसका लाभ खासतौर पर ग्राहकों को डाउनलोड और अपलोड स्पीड में मिलेगा। याद रहे कि हाल ही में दूरसंचार नियामक ट्राई की रिपोर्ट में औसत डाउनलोड स्पीड में रिलायंस जियो ने बाजी मारी थी। इस दौरान जियो के नेटवर्क पर औसत अधिकतम डाउनलोड स्पीड 21.3 एमबीपीएस रही, जबकि इस दौरान भारती एयरटेल के नेटवर्क पर औसत 4जी डाउनलोड स्पीड 8.8 एमबीपीएस रही। 

गौरतलब है कि ट्राई रिपोर्ट में वोडाफोन और आइडिया सेल्युलर के लिए औसत डाउनलोड स्पीड क्रमश: 7.2 एमबीपीएस और 6.8 एमबीपीएस रही। जबकि इसी दौरान 4जी अपलोड स्पीड के लिहाज से आइडिया अव्वल रही थी।



" जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555 "


Loading...


Flicker News

Loading...

Most read news


Most read news


rising@8AM


Loading...