Baaghi 2 Assistant Director Name Came in Physical Assault

दि राइजिंग न्यूज़

गैजेट डेस्क।

 

दुनिया की दो दिग्गज मोबाइल कंपनियों (सैमसंग-एप्पल) के बीच चल रहे पेटेंट विवाद में आईफोन मेकर कंपनी एप्पल की जीत हुई। अमेरिकी सुप्रीम कोर्ट ने सोमवार को इस केस का फैसला सुनते हुए कहा कि सैमसंग को 12 करोड़ डॉलर का हर्जाना एप्पल को देना होगा।

क्या है मोबाइल कंपनियों का पेटेंट विवाद

 

सैमसंग पर आईफोन के फीचर्स और पैकेजिंग पेटेंट चोरी करने का आरोप लगाते हुए एप्पल ने कैलिफोर्निया के लोअर कोर्ट में केस फाइल किया। इसमें हर्जाने के तौर पर सैमसंग से 2.5 अरब डॉलर की मांग की गई थी।

 

कोर्ट ने 2012 में एप्पल के पक्ष में फैसला सुनाया और सैमसंग को 1 अरब डॉलर हर्जाना देने का ऑर्डर दिया। इसके बाद एप्पल ने दोबारा अपील की। 2013 में कोर्ट ने सैमसंग पर लगे कुछ आरोपों को खारिज भी किया था।

इस दौरान एप्पल ने सैमसंग के कुछ स्मार्टफोन पर बैन लगवाने की कोशिश की, लेकिन उसे कामयाबी नहीं मिली। तब एप्पल ने दावा किया था कि सैमसंग के फोन का ऑपरेटिंग सिस्टम (OS) चोरी का है।

 

सैमसंग ने क्या दी थी सफाई?

 

इस मामले में सैमसंग ने कहा था, ''हमारा कोई भी प्रोडक्ट एप्पल के पेटेंट का वॉयलेशन नहीं करता है। एप्पल ने पेटेंट हर्जाने को बढ़ा-चढ़ाकर पेश किया है। बावजूद इसके हम लगातार लीगल सिस्टम के मुताबिक, कंपनी के प्रोडक्ट और इंटेलेक्चुअल प्रॉपर्टी को सिक्योर करते रहेंगे।''

एप्पल ने सैमसंग की तारीफ में क्या कहा था?

 

एप्पल के को-फाउंडर स्टीव वोजनिक ने 2013 में कहा था, ''सैमसंग के मोबाइलों में कुछ अच्छी चीजें हैं। मैं चाहता हूं कि ये आईफोन में भी शामिल हों। मैं नहीं जानता कि सैमसंग हमें ऐसा करने से रोकेगा। लाइसेंस के विवाद से ऊपर उठकर कुछ अच्छी टेक्नोलॉजी को साझा किया जाए। इससे दोनों कंपनियों के प्रोडक्ट बेहतर होंगे।''

 

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement