Sapna Chaudhary Joins Congress

दि राइजिंग न्‍यूज

खेल डेस्‍क।

 

गुरुवार को आयरलैंड ने भारत को 1-0 से मात देकर महिला हॉकी विश्व कप के क्वार्टर फाइनल में प्रवेश कर लिया। पहले मुकाबले में भारत ने इंग्लैंड को 1-1 से बराबरी पर रोका था, लेकिन ग्रुप बी के दूसरे मुकाबले में हार के बाद अब नॉकआउट दौर में पहुंचने की कप्तान रानी की टीम की उम्मीदें 29 जुलाई को अमेरिका से होने वाले मैच पर टिकी हैं।

आयरलैंड की टीम की यह लगातार दूसरी जीत है। इससे पहले उसने अमेरिका की बेहतर रैंकिंग की टीम को हराया था। मैच का एकमात्र गोल एना ओ फ्लेनगन ने 13वें मिनट में किया था। दसवीं विश्व रैंकिंग की भारतीय टीम ने दुनिया में 16वें नंबर की प्रतिद्वंद्वी टीम के खिलाफ बराबरी की कई मौके गंवाए।

भारतीय टीम को मैच में सात पेनाल्टी कॉर्नर मिले थे, लेकिन एक को भी भुनाया नहीं जा सका। 57वें मिनट में कप्तान रानी रामपाल के पास बेहतरीन मौका था लेकिन तारीफ करनी होगी आयरलैंड की गोलकीपर ग्रेस ओ फ्लेनगन की जिन्होंने बेहतरीन बचाव कर दिखाया। भारतीय टीम ने मैच की शुरुआत आक्रामक अंदाज में की थी। दाएं छोर से बनाए हमले की मदद से चौथे ही मिनट में पहला पेनाल्टी कॉर्नर मिल गया था। ड्रैग फ्लिकर गुरजीत कौर के शॉट को आयरिश रक्षक ने आसानी के साथ रोक लिया।

आयरलैंड को 12वें मिनट में पहला पेनाल्टी कॉर्नर मिला था। जब दीप ग्रेस इक्का ने आयरलैंड की फारवर्ड को ब्लॉक करने का प्रयास किया था। ड्रैग फ्लिकर ड्यूक के शॉट पर एना ओ फ्लेनगन ने गेंद को गोल की दिशा दे दी। दो मिनट बाद भारत को फिर पेनाल्टी कॉर्नर मिला लेकिन गुरजीत के शॉट को आसानी से रोक लिया गया।

दूसरे क्वार्टर में आयरलैंड ने 19वें मिनट में लगातार दो पेनाल्टी कॉर्नर लिए। दूसरे पेनाल्टी कॉर्नर पर भारतीय गोलकीपर सविता पूनिया ने अच्छा बचाव किया।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement