Sapna Chaudhary Joins Congress

दि राइजिंग न्‍यूज

खेल डेस्‍क।

 

इंग्‍लैंड के खिलाफ पहला टेस्‍ट हारने के बाद अब भारतीय टीम नौ अगस्त से लॉर्ड्स के ऐतिहासिक मैदान पर सीरीज का दूसरा टेस्ट खेलने उतरेगी। वैसे, लॉर्ड्स के आंकड़े टीम इंडिया के पक्ष में जाते नहीं दिखते हैं। भारतीय टीम ने “क्रिकेट के मक्का” कहे जाने वाले लॉर्ड्स मैदान पर 17 टेस्ट खेले हैं, जिसमें से उसे सिर्फ दो ही बार जीत मिली है, जबकि 11 मुकाबलों में टीम को शिकस्त का सामना करना पड़ा है। इंग्लैंड के इस मैदान पर टीम इंडिया चार टेस्ट ड्रॉ करने में सफल रही है।

लॉर्ड्स के मैदान पर 13 कप्तान भारतीय टीम का प्रतिनिधित्व कर चुके हैं। सिर्फ कपिल देव और एमएस धोनी ही ऐसे कप्तान रहे, जिनके नेतृत्व में टीम इंडिया लॉर्ड्स टेस्ट जीतने में कामयाब हुई। टीम इंडिया ने अपना पहला टेस्ट मैच 1932 में सीके नायडू की कप्तानी में खला था। तब भारतीय टीम को 158 रन की शिकस्त झेलनी पड़ी थी।

कपिल की कप्‍तानी में जीता पहला मैच

1932 के 10 मैच बाद भारत ने लॉर्ड्स पर पहली जीत दर्ज की। 1986 में कपिल देव के नेतृत्व में भारतीय टीम ने पहली बार लॉर्ड्स पर टेस्ट जीता। भारत ने डेविड गावर के नेतृत्व वाली इंग्लैंड को 5 विकेट से मात दी थी। 1986 के बाद टीम इंडिया ने लॉर्ड्स पर 5 मैच खेले, लेकिन इन मौकों पर उसे शिकस्त झेलनी पड़ी।

भारत को लॉर्ड्स पर दूसरी जीत 2014 में मिली जब एमएस धोनी के नेतृत्व वाली टीम ने इंग्लैंड को 95 रन से मात दी। इशांत शर्मा को तब 74 रन देकर सात विकेट लेने के लिए “मैन ऑफ द मैच” चुना गया था।

भारत का लॉर्ड्स मैदान पर रिकॉर्ड:

  • मैच- 17

  • भारत जीता -2

  • इंग्लैंड जीता – 11

  • ड्रॉ - 4

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement