Sanjay Dutt invited Ranbir and Alia For Dinner

दि राइजिंग न्‍यूज

खेल डेस्‍क।

 

भारतीय टीम के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ शुक्रवार को संपन्न वन-डे सीरीज में विकेट के पीछे बेहतरीन प्रदर्शन किया, लेकिन बल्ले से उनका परफॉरमेंस अपेक्षाकृत कमजोर रहा। 36 वर्षीय धोनी की फिनिशिंग क्षमता कमजोर पड़ती दिखने लगी है, जो भूमिका उन्होंने देश के लिए करीब एक दशक तक पुख्ता तौर पर निभाई।

इसे देखने के बावजूद भारतीय टीम प्रबंधन ने धोनी को निचलेक्रम पर भेजना जारी रखा और दक्षिण अफ्रीका में भी उन्हें या तो क्रीज पर जमने का मौका नहीं मिला या फिर जल्द ही उनकी पारी का अंत हुआ।

वहीं आइपीएल-11 में धोनी की टीम में साथ रहने वाले सुरेश रैना ने धोनी से बल्लेबाजी में कमाल का प्रदर्शन निकलवाने की तरकीब सुझाई है।

रैना का मानना है कि भारतीय टीम को अगर धोनी से कमाल का प्रदर्शन निकलवाना है तो उन्हें उपरीक्रम पर बल्लेबाजी कराना चाहिए। रैना ने कहा, मेरा मानना है कि धोनी को ऊपर आकर बल्लेबाजी करना चाहिए। वह ऐसे में बेहतर प्रदर्शन कर सकेंगे, क्योंकि उन्हें विकेट पर समय बिताने का वक्त मिल जाएगा। वह इस तरह के खिलाड़ी हैं, जो ऊपर आकर टीम को मजबूत स्थिति में पहुंचा देते हैं।

रैना ने आगे कहा, दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ आगामी टी-20 इंटरनेशनल सीरीज महत्वपूर्ण है। इसके बाद बांग्लादेश में सीरीज है और फिर आइपीएल। मगर 50 ओवर के क्रिकेट का अनुभव जरूरी है। इससे काफी फर्क पड़ता है। जब आप चौथे या पांचवें क्रम पर बल्लेबाजी करने उतरते हैं तो आराम नहीं कर सकते।

बाएं हाथ के बल्लेबाज ने कहा, आपको लगातार रन बनाने होते हैं। एक कप्तान और कोच को महसूस हो कि आप उपयोगी खिलाड़ी हैं, उसके लिए आपको अच्छी बल्लेबाजी, फील्डिंग, गेंदबाजी और विकेटकीपिंग करनी होती है। आपको लगातार अपनी बल्लेबाजी में तब्दीली करना होती है।

अगर शीर्ष तीन बल्लेबाज अच्छा प्रदर्शन करें और मिडिल ऑर्डर भी बढ़िया खेले तो आप 340-350 रन तक का स्कोर चेस कर सकते हैं। जब भी कोहली, रोहित और धवन बढ़िया लय में होते हैं तो बड़ा स्कोर ही बनाते हैं।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement

Loading...

Public Poll