Mahaakshay Chakraborty and Madalsa Sharma jet off to US for Honeymoon

दि राइजिंग न्‍यूज

खेल डेस्‍क।

 

क्रिकेट के दुनिया में अपने नाम को लेकर चर्चा का विषय बन चुके वाशिंगटन सुंदर हमेशा 555 नंबर की जर्सी पहनकर खेलते हैं। नाम की तरह ही सुंदर की जर्सी के नंबर का भी एक खास मतलब है। आरसीबी की ओर से खेलने वाले सुंदर ने खुद इस राज से पर्दा उठाया है।

एक वेबसाइट को दिए इंटरव्यू में वाशिंगटन सुंदर ने बताया कि उनकी जन्मतिथि और जन्म का वक्त इस जर्सी नंबर के पीछे की सबसे बड़ी वजह है। सुंदर का जन्म पांच अक्टूबर को सुबह पांच बजकर पांच मिनट पर हुआ था। यही वजह से कि वह 555 नंबर की जर्सी पहनकर मैदान पर उतरते हैं।

नाम की पीछे भी खास वजह

वाशिंगटन सुंदर के जर्सी नंबर ही नहीं नाम में भी एक राज छुपा है। दरअसल, उनके पिता एम सुंदर ने अपने गॉडफादर पीडी वाशिंगटन के नाम पर अपने बेटे का नाम रखा था। पीडी वाशिंगटन ने सुंदर के पिता की काफी मदद की और मुश्किल वक्त में परिवार के साथ खड़े रहे। इसीलिए सुंदर के पिता उन्हें अपना गॉडफादर मानते हैं।

एक कान से सुन नहीं सकते

भारतीय टीम में खेल चुके वाशिंगटन सुंदर सिर्फ एक कान से सुन पाते हैं। जब वो चार साल के थे, तब उनकी बीमारी का पता चला। कई अस्पतालों में इलाज के बाद पता चला कि ये रोग असाध्य है। सुंदर को भी इसके चलते परेशानी का सामना करना पड़ता था, लेकिन उन्होंने इस कमजोरी को हावी नहीं होने दिया।

बल्ले से किया कमाल

वाशिंगटन सुंदर ने रविवार को खेले गए मुकाबले में राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ तीन छक्कों और एक चौके की मदद से 19 गेंदों पर ताबड़तोड़ 35 रन बनाए, लेकिन 218 रनों का पीछा करने उतरी आरसीबी को मैच में हार का सामना करना पड़ा।

आइपीएल-10 में राइजिंग पुणे सुपरजायंट की ओर से खेलते हुए वाशिंगटन सुंदर ने आइपीएल में सबसे कम उम्र में “मैन ऑफ द मैच” का अवॉर्ड हासिल करने का रिकॉर्ड बनाया। 17 साल 223 दिनों में यह उपलब्धि हासिल करने वाले वे पहले आइपीएल खिलाड़ी बने थे। अब तक 18 वर्ष की उम्र से पहले किसी खिलाड़ी को “मैन ऑफ द मैच” हासिल नहीं हुआ था।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement

Loading...

Public Poll