Neha Kakkar Reveald Her Emotional Connection with Indian Idol

दि राइजिंग न्यूज़

खेल डेस्क।

60 सालों में पहली बार इटली जैसी 4 बार की चैंपियन टीम अगले फीफा विश्वकप के लिए क्वालीफाई करने से चूक गयी है। फीफा रैंकिंग में 15वें स्थान पर विराजमान इटली का घरेलू मैदान पर स्वीडन के साथ खेला गया विश्वकप क्वालिफिकेशन मैच 0-0 से ड्रॉ समाप्त हुआ। इस परिणाम के साथ स्वीडन ने 1-0 के औसत के आधार पर अगले वर्ष रूस में होने वाले फुटबाल विश्वकप टूर्नामेंट के लिए अपना टिकट बुक करा लिया।

इटली को स्टॉकहोम में हुए पहले चरण के मैच में भी 0-1 से हार मिली थी। वर्ष 1958 के बाद से इटली कभी भी विश्वकप में अनुपस्थित नहीं रहा है। फीफा विश्वकप इतिहास में वर्ष 1930 और 1958 के बाद मात्र तीसरा मौका है, जब इटली इस टूर्नामेंट का हिस्सा नहीं बन पाया है। गौरतलब है कि स्वीडन फीफा रैकिंग में 25वें स्थान पर है।


मैच में हालांकि घरेलू टीम ने गोल के कई मौके बनाये लेकिन वह स्वीडन के गोलकीपर रॉबिन ओल्सन को छकाकर एक भी गोल नहीं दाग सकी। फीफा विश्वकप में दुनिया की सर्वश्रेष्ठ 32 टीमें भाग लेती हैं। यह स्थिति तब थी जब इटली ने मैच में 75 फीसदी गेंद को अपने कब्जे में रखा, लेकिन कीपर ओल्सन की दीवार और पेनल्टी की लगातार खारिज होती गयी अपील से वह एक भी गोल नहीं कर सका।


इटली के लिए मैच में सिरो इमोबाइल गोल करने के काफी करीब पहुंचे थे, लेकिन ओल्सन ने उसे काफी चतुराई से रोक दिया। मैच की समाप्ति की घोषणा के साथ ही इटली के सभी खिलाड़ी पिच पर गिर पड़े, जबकि ज्यार्जियो चिलानी बुरी तरह से रोने लगे। दूसरी ओर घरेलू समर्थकों की स्थिति भी देखने वाली थी और स्टेडियम में चारों ओर से दर्शकों ने टीम के खिलाफ हूटिंग और नारेबाजी शुरू कर दी।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement

Loading...

Public Poll