FIR Registered Against Singer Abhijeet Bhattacharya For Misbehavior From Woman

दि राइजिंग न्यूज़

खेल डेस्क।

एक बार फिर डकवर्थ लुईस नियम को लेकर सवाल उठ रहे हैं और यह मौका आया है आइपीएल के मौजूदा सीजन में। 21 अप्रैल को ईडन गार्डन्स, कोलकाता में मेजबान कोलकाता नाइट राइडर्स और किंग्स इलेवन पंजाब के बीच मुकाबला खेला गया था, जिसमें डकवर्थ लुईस नियम के तहत पंजाब ने अपनी विरोधी टीम को नौ विकेट से हरा दिया।

मैच के बाद केकेआर के कप्तान दिनेश कार्तिक ने कहा, “टी20 छोटा फॉर्मेट का गेम होता है और इसमें एक-दो विकेट लेते ही मैच का रुख पलट जाता है। पंजाब ने 8.2 ओवर में 96 रन जरूर बना लिए थे, लेकिन हम मैच से बाहर नहीं हुए थे और हमारे गेंदबाज़ वहां से मैच में वापसी कर सकते थे, लेकिन बारिश की वजह से पंजाब के लिए टारगेट छोटा हो गया और उन्होंने जीत हासिल कर ली।”

साथ ही कार्तिक ने डकवर्थ लुईस नियम का विरोध करते हुए कहा, “आईसीसी को बारिश प्रभावित मैचों के लिए जयदेवन मेथड (वीजेडी मेथड) का इस्तेमाल करना चाहिए। मेरे हिसाब से डकवर्थ लुईस मेथड में कई खामियां हैं और वीजेडी मेथड उससे सभी मामलों में बेहतर है।” वीजेडी मेथड को केरल के वी जयदेवन ने तैयार किया है, जो कि पेशे से सिविल इंजीनियर हैं।

वैसे ये पहला मौका नहीं है जब वीजेडी मेथड के पक्ष में किसी क्रिकेटर ने अपनी आवाज बुलंद की है। आपका बता दें कि केकेआर ने पहले बल्लेबाज़ी करते हुए 191/7 का स्कोर खड़ा किया था। जीत के लिए 192 रन का लक्ष्य लेकर उतरी किंग्स इलेवन पंजाब टीम ने केएल राहुल और क्रिस गेल की ओपनिंग जोड़ी ने 8।2 ओवर में 96 रन बना लिए थे, तभी मैच में बारिश आ गई। बारिश खत्म होने के बाद एक बार फिर जब खेल शुरू हुआ तो मैच 13 ओवरों का कर दिया गया और डकवर्थ लुईस नियम के तहत लक्ष्य 125 रन का हो गया।

 

 

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement

Public Poll