Jhanvi Kapoor And Arjun Kapoor Will Seen in Koffee With Karan

दि राइजिंग न्यूज़

खेल डेस्क।

 

आज यानी 21 सितंबर को जमैकाई धुरंधर क्रिस गेल 38 साल के हो गए। आखिरकार वनडे मैचों में “कैरेबियाई तूफान” लौट आया। इससे दो दिन पहले ही गेल 2 साल 5 महीने और 29 दिनों बाद वेस्टइंडीज के लिए वनडे खेलने उतरे। इंग्लैंड के खिलाफ मंगलवार को ओल्ड ट्रैफोर्ड में खेले गए 5 वनडे मैचों की सीरीज के पहले वनडे में गेल की मौजूदगी दिखी।

इस वनडे से पहले तक इस बात की कोई गारंटी नहीं थी कि वेस्टइंडीज 2019 वर्ल्ड कप में सीधा प्रवेश पा जाएगा। लंबे अंतराल के बाद टीम में वापसी कर रहे गेल भी इंग्लैंड के हाथों इंडीज को पिटने से बचा नहीं पाए। इस हार के बाद तय हो गया कि अगले वर्ल्ड कप में खेलने के लिए 2018 में उसे क्वालिफायर में खेलना ही पड़ेगा।

आखिरी बार गेल का तूफान 2015 के वर्ल्ड कप में देखने का मिला था, जब 21 मार्च को न्यूजीलैंड के खिलाफ 33 गेंदों में 61 रनों की पारी भी वेस्टइंडीज को जीत नहीं दिला पाई थी।

-संयोग से उसी वर्ल्ड कप में मार्टिन गप्टिल ने इंडीज के खिलाफ नाबाद 237 रनों की पारी खेल कर गेल के वर्ल्ड कप के सर्वाधिक रनों की पारी (215 रन) को पीछे छोड़ दिया था। गेल ने 28 दिन पहले ही जिम्बाब्वे के खिलाफ वर्ल्ड कप का पहला  दोहरा शतक ठोका था।

वेस्टइंडीज बोर्ड के साथ लंबे वेतन विवाद के बाद इसी साल जुलाई में क्रिस गेल अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट लौट आए थे, जब उन्होंने सबिना पार्क में भारत के खिलाफ एकमात्र टी -20 में खेला। वेस्टइंडीज क्रिकेट बोर्ड का खिलाड़ियों के साथ अनुबंध विवाद 2014 के बाद से चल रहा था। बोर्ड ने अपने बयान में कहा था कि उनकी शर्तों का पालन करने वाले का ही टीम में चयन किया जाएगा।

इस दौरान गेल दुनियाभर के विभिन्न घरेलू टी-20 टूर्नामेंट में खेलते रहे। हालांकि वे आईपीएल के पिछले सीजन में अपनी ख्याति के अनुरूप बल्लबाजी नहीं कर पाए और नौ मैचों में केवल 200 रन ही बनाए। और अब 913 दिनों बाद वनडे में वापसी करने वाले गेल के बल्ले से 37 रन (27 गेदों पर) ही निकल पाए।

 

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement