Home Sports News Olympic Gold Winner Carolina Said I Wish I Would Be Indian

UP: गोरखपुर में शिक्षामित्रों और पुलिस के बीच झड़प

आंध्र प्रदेश के CM चंद्रबाबू नायडू ने शटलर PV सिंधू को ग्रुप-1 ऑफिसर नियुक्त किया

हरमनप्रीत और मिताली राज को रेलवे में मिलेंगे राजपत्रित अधिकारी के पद

गुजरात कांग्रेस के MLAs बलवंत सिंह और तेजश्री पटेल ने पार्टी से दिया इस्तीफा

रेलवे ने भारतीय महिला क्रिकेट टीम की 10 खिलाड़ियों को 1.30 करोड़ नकद देने की घोषणा की

Trending :   #Hot_Photoshot   #Sports   #Politics   #Hollywood   #Bollywood

ओलंपिक गोल्‍ड विनर कैरोलिना ने क्‍यों कहा, “काश मैं इंडियन होती”

Sports | 11-Jan-2017 01:08:49 PM            

Olympic Gold Winner Carolina said I wish I would be Indian


दि राइजिंग न्‍यूज

11 जनवरी, खेल डेस्‍क।

स्‍पेन की कैरोलिना मारिन अब भारतीयों के लिए जाना-पहचाना चेहरा हैं। उन्‍होंने रियो ओलंपिक 2016 के वुमेन बैडमिंटन के फाइनल में भारत की पीवी सिंधु को हरा कर गोल्‍ड जीता था। इन दिनों कैरोलिना भारत में हैं, वह प्रो-बैडमिंटन लीग खेलने के लिए यहां आई हुईं हैं। यहां आकर ऐसा क्‍या हुआ कि ओलंपिक गोल्‍ड विनर कैरोलिना ने यह कह दिया कि काश मैं इंडियन होती।

मारिन ने खुलासा करते हुए बताया है कि रियो में गोल्ड मेडल जीतने के बाद ही उन्हें ज्यादा कुछ नहीं मिला। जबकि उनसे हारने वाली सिंधु को भारत में खूब इनाम मिले। सिंधु को नकद इनाम के अलावा, लग्जरी कार, जमीन और कई एंडोर्समेंट ऑफर मिले। 23 वर्षीय मारिन को गोल्ड जीतने के बाद केवल 94000 यूरो (करीब 68 लाख रुपये) ही मिले।

ये भी पढ़ें

जब डिबेट में एक लड़का लड़की से हारा तो लड़की का किया ये हाल देखें वीडियो

रिजर्व बैंक ने नोटबंदी पर किया ये बड़ा खुलासा  

कैरोलिना को सिंधु का करीब 10 प्रतिशत ही इनाम मिला। जबकि उन्होंने गोल्ड मेडल जीता था। सिंधु के मेडल जीतने के बाद उनके कोच पी. गोपीचंद को भी बहुत कुछ इनाम में मिला था। वहीं जब इस बारे में मारिन के कोच रिवाज से पूछा गया तो उन्होंने बताया कि उन्हें कोई इनाम नहीं मिला।


मारिन बोलीं काश मैं इंडियन होती

मारिन का कहना है कि, स्पेन में चीजें बिल्कुल अलग हैं, गोल्ड जीतने के बाद मुझे कोई कार, मकान और जमीन नहीं मिली, मुझे केवल सरकार से इनाम मिला। लेकिन फिर भी जो मिला मैं उससे संतुष्ट हूं।


लोग अटेंशन दे रहे हैं

मारिन इस बात को मानती हैं कि उन्हें अपने देश से ज्यादा अटेंशन भारत में मिल रहा है। उनके मुताबिक यहां आकर मुझे ढेर सारे फैन्स मिले। लोग मुझे जानने लगे हैं, वे एयरपोर्ट और होटल पर मेरा इंतजार करते हैं और मुझसे सेल्फी और ऑटोग्राफ मांगते हैं। मारिन का कहना है कि स्पेन में ऐसी चीजें बिल्कुल नहीं हो सकतीं, वहां यहां से सबकुछ अलग है। मैंने गोल्ड मेडल जीता और सिंधु ने सिल्वर, लेकिन मुझे ये बात जानकर हैरानी हुई कि उन्हें इनाम में इतना सबकुछ मिला। इसके बाद मारिन मुस्कुराते हुए कहती हैं कि कभी-कभी मुझे लगता है कि मुझे भी इंडियन होना चाहिए था।

 

 

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

HTML Comment Box is loading comments...
Content is loading...

 

संबंधित खबरें


international-statement-on-kulbhushan-jadhav-case

 

Rising Stroke caricature
The Rising News Public Poll

 

 

Rising Newsletter Newsletter

 

 

Flicker News


Most read news

 

Most read news

 

Most read news

उत्तर प्रदेश

खबर आपके शहर की