Coffee With Karan Sixth Season Teaser Released

दि राइजिंग न्‍यूज

 

हिंदू धर्म में प्रदोष व्रत हर महीने की दोनों पक्षों की त्रयोदशी तिथि को किया जाता है। इस बार यह व्रत मंगलवार यानी आज पड़ रहा है, जिसके कारण इसे मंगल प्रदोष कहते हैं। मान्यता के अनुसार इस प्रदोष व्रत को करने से लंबे समय के कर्ज से मुक्ति मिल जाती है।

 

 

इस व्रत को मुख्य रूप से भगवान शिव को प्रसन्न करने के लिए किया जाता है। प्रदोष व्रत करने के लिए जल्दी सुबह उठकर सबसे पहले स्नान करते हैं। इसके बाद भगवान शिव को बेल पत्र, चावल, फूल, धूप, दीप, फल, पान, सुपारी आदि चढ़ाए जाते हैं।

 

 

प्रदोष व्रत मंगल को पड़ने के कारण इसका महत्व और भी बढ़ जाता है। इस दिन शाम के समय हनुमान चालीसा का पाठ करना ज्यादा लाभकारी हो सकता है। इस व्रत को करने से मंगल ग्रह के दोष को दूर किया जा सकता है।

मंगल प्रदोष के दिन मंदिर जाकर शिवलिंग को जल से अभिषेक करें साथ ही गन्ने का रस भी अर्पित करें। इससे सेहत सम्बंधी विकार दूर हो जाते हैं।

 

 

शिवपुराण के अनुसार आज के दिन शिवलिंग पर गंगाजल चढ़ाना चाहिए ऐसा करने से भगवान भोलेनाथ की कृपा मिलती है और दुर्भाग्य भी पीछा छोड़ जाता है।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement