Home Spiritual Special On Lord Vishwakarma Puja

प्रद्युमन मर्डर केेेेस: कंडक्‍टर अशोक रिहा

चारा घोटाला: झारखंड के पूर्व मुख्य सचिव सजल चक्रवर्ती को 5 साल की कैद

J-K: केरन सेक्टर में घुसपैठ नाकाम, एक आतंकवादी को मार गिराया

पाकिस्तान: गुरुवार को रिहा हो जाएगा हाफिज सईद

27-29 नवंबर तक रूस दौरे पर होंगे गृहमंत्री राजनाथ सिंह

दुनिया के सबसे बड़े इंजीनियर थे भगवान विश्वकर्मा

Spiritual | 17-Sep-2017 09:50:05 AM | Posted by - Admin

  • बनाई थी सोने की लंका

   
Special on Lord Vishwakarma Puja

दि राइजिंग न्‍यूज

 

आज पूरे देश में कारखानों और उद्योग जगत के देवता भगवान विश्वकर्मा की जयंती मनाई जा रही है। इस बार ये जयंती 17 सितंबर यानी आज है। ऐसी मान्यता है कि पौराणिक काल में देवताओं के अस्त्र-शस्त्र और महलों का निर्माण भगवान विश्वकर्मा ने ही किया था। भगवान विश्वकर्मा निर्माण और सृजन के देवता माने जाते हैं।

 

 

विश्वकर्मा जी को शिल्प में गजब की महारथ हासिल थी जिसके कारण इन्हें शिल्पकला का जनक भी माना जाता है। इस समस्त ब्रह्मांड की रचना भी विश्वकर्मा जी के हाथों से हुई। इस दिन देश के विभिन्न राज्यों में खासकर औद्योगिक क्षेत्रों, फैक्ट्रियों, लोहे की दुकान, वाहन शोरूम, सर्विस सेंटर आदि में पूजा होती है।

 

 

हिन्दू मान्यता के अनुसार पूरे ब्रह्मांड का निर्माण भगवान विश्वकर्मा ने ही किया था। भगवान विश्वकर्मा ने सोने की लंका, पुष्पक विमान, इंद्र का व्रज, भगवान शिव का त्रिशूल, पांडवों के लिए इंद्रप्रस्थ नगर और भगवान कृष्ण की नगरी द्वारिका को बनाया था।

 

 

पौराणिक कथाओं के अनुसार इस समस्त ब्रह्मांड की रचना भी विश्वकर्मा जी के हाथों से हुई है। ऋग्वेद के 10वे अध्याय के 121वें सूक्त में लिखा है कि विश्वकर्मा जी के द्वारा ही धरती, आकाश और जल की रचना की गई है।। विश्वकर्मा पुराण के अनुसार आदि नारायण ने सर्वप्रथम ब्रह्मा जी और फिर विश्वकर्मा जी की रचना की। 

"जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555



संबंधित खबरें



HTML Comment Box is loading comments...

Content is loading...




TraffBoost.NET

Rising Stroke caricature
The Rising News Public Poll


What-Should-our-Attitude-be-Towards-China


Photo Gallery
गोमती तट पर दीप आरती करती महिलाएं। फोटो- अभय वर्मा



Flicker News

Most read news

 


Most read news


Most read news


sex education news