Kamasutra 3D Fame Actress Saira Khan Passed Away

दि राइजिंग न्‍यूज

 

आज नरक चतुर्दशी (छोटी दिवाली) सेलिब्रेट की जा रही है। धनतेरस के दूसरे दिन और दीपावली के एक दिन पहले छोटी दीवाली यानी कि नरक चतुर्दशी का त्योहार मनाया जाता है। दिवाली के एक दिन पहले आने वाले इस त्योहार के दिन दीप दान किए जाते हैं।

इस दिन घर के द्वार पर दीपक जलाए जाते हैं, इसलिए इसे छोटी दिवाली कहा जाता है। छोटी दिवाली के दिन यम देवता की पूजा की जाती है। मान्यता है कि यम देवता की पूजा करके लोग अपने परिवार वालों के लिए नरक निर्वाण की कामना करते हैं।

पूजा के लिए शुभ मुहूर्त

इस बार पूजा के लिए तीन शुभ मुहूर्त हैं...

  • सुबह: 9 बजकर 32 मिनट से 11 बजकर 45 मिनट तक।

  • दोपहर: 12 बजकर 05 मिनट से 1 बजकर 22 मिनट तक।

  • शाम: 5 बजकर 40 मिनट से 7 बजकर 05 मिनट तक।

नरक चतुर्दशी पूजन-

नरक चतुर्दशी पर सुबह तेल लगाकर चिचड़ी की पत्तियां (चिचड़ी- चमत्कारी पौधा) पानी में डालकर स्नान करने से नरक से मुक्ति मिलती है। इस मौके पर “दरिद्रता जा लक्ष्मी आ” कह घर की महिलाएं घर से गंदगी को घर से बाहर निकालती हैं।

नरक चतुर्दशी पूजन-विधि

  • इस दिन सुबह उठकर सबसे पहले नहा धोकर सूर्य भगवान को अर्घ्य दें और संभव हो तो तिल का तेल लगाने के बाद नहाएं।

  • इस दिन शरीर पर चंदन का लेप लगाकर नहाने और भगवान कृष्ण की उपासना करने का भी विधान है।

  • शाम के समय घर की दहलीज पर दीप जलाएं और यम देव की पूजा करें।

  • नरक चौदस के दिन भगवान हनुमान की पूजा भी की जाती है।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement