Home Spiritual Diwali Special: Use These 5 Offerings For The Worship Of Goddess Lakshmi

कांग्रेस प्रधानमंत्री को बर्दाश्त नहीं कर पा रही: स्मृति ईरानी

ब्रह्मोस सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल का सुखोई-30 फाइटर जेट से सफल परीक्षण

प्रद्युम्न मर्डर केस: जुवेनाइल जस्टिस बोर्ड ने आरोपी को 14 दिन के लिए सुधार गृह भेजा

हम कुछ भी असंवैधानिक नहीं करते, हार्दिक पटेल ने फॉर्मूला मंजूर किया: सिब्बल

आरक्षण का फॉर्मूला मोदी जी के पास है: अशोक गहलोत

दीपावली: इन 5 प्रसाद के बिना अधूरी है मां लक्ष्मी की पूजा

Spiritual | 19-Oct-2017 11:30:42 | Posted by - Admin
   
Diwali Special: Use these 5 Offerings for the Worship of Goddess Lakshmi

दि राइजिंग न्‍यूज

 

आज दीपोत्‍सव यानी दीपावली का पर्व है। इस पर्व पर हर कोई चाहता है कि धन की देवी मां लक्ष्मी की उन पर विशेष कृपा बनी रहे और उन्हें खुश करने के लिए हर तरह के प्रयत्न भी करते हैं। खासतौर पर दिवाली के समय, कहा जाता है इस दिन मां लक्ष्मी साक्षात घर में वास करती हैं।

 

इस दिन मां लक्ष्मी की विशेष कृपा पाने के लिए उनकी पूजा करने के साथ ही उनका पसंदीदा प्रसाद भी चढ़ाना चाहिए। जानिए किन प्रसादों से खुश होती हैं मां लक्ष्‍मी...

  • मां लक्ष्मी को पानी में उगने वाला फल मखाना बहुत प्रिय है। इसका कारण यह है कि मखाना जल में एक कठोर आवरण में बढ़ता है। इसलिए यह हर तरह से शुद्घ और पवित्र रहता है। इसका प्रयोग यज्ञ और हवन में भी किया जाता है।
  • इस समय बाजार में आपको जल सिंघाड़ा खूब दिखता होगा। यह मां लक्ष्मी के पसंदीदा फलों में से एक है। इसका कारण यह है कि यह भी जल में पैदा होता है। यह मौसमी फल है और सेहत के लिए बहुत ही फायदेमंद भी है।
  • लक्ष्मी माता का प्रिय फल होने के कारण ही नारियल को श्रीफल कहा गया है। मखाने की तरह यह भी कठोर आवरण से ढंका रहता है। जिससे यह शुद्ध और पवित्र रहता है। लक्ष्मी मैया को नारियल का लड्डू, कच्चा नारियल और जल से भरा नारियल अर्पित करने वाले पर माता प्रसन्न होती हैं।
  • ज्योतिषशास्त्र के अनुसार मखाना, जल सिंघार और बताशे ये तीनों चीजें चन्द्रमा से संबंधित वस्तुएं हैं। चन्द्रमा को देवी लक्ष्मी का भाई माना जाता है। चन्द्र से संबंध होने के कारण बताशे मां लक्ष्मी को प्रिय हैं। यही कारण है कि दीपावली में बताशे और चीनी के खिलौने लक्ष्मी माता को अर्पित किए जाते हैं।
  • माता को पान बहुत पसंद है। इसलिए पूजा के बाद सबसे अंत में देवी को पान अवश्य अर्पित करना चाहिए।

"जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555



संबंधित खबरें



HTML Comment Box is loading comments...

Content is loading...



TraffBoost.NET

Rising Stroke caricature
The Rising News Public Poll


What-Should-our-Attitude-be-Towards-China


Photo Gallery
गोमती तट पर दीप आरती करती महिलाएं। फोटो- अभय वर्मा



Flicker News

Most read news

 


Most read news


Most read news


sex education news