• वसंतकुंज और मालवीय नगर बिना कागजात के रह रहे 20 विदेशी पकड़े गए
  • एवरेस्‍ट पर चढ़ने के बाद गायब भारतीय रवि कुमार मृत पाए गए
  • सिख विरोधी दंगा मामले में जगदीश टाइटलर ने लाई डिटेक्‍टर टेस्‍ट कराने से किया इंकार
  • मुंबईः कॉकपिट से धुआं निकलने के बाद एयर इंडिया फ्लाइट की इमरजेंसी लैंडिंग, सभी यात्री सुरक्षित
  • लखनऊ: IAS अनुराग तिवारी की मौत के मामले में अज्ञात लोगों के खिलाफ FIR
  • कोयला घोटाला: पूर्व कोयला सचिव एचसी गुप्ता को 2 साल की सजा
  • PM मोदी की हत्या करने के लिए 50 करोड़ रुपये का ऑफर, विदेश से आई कॉल

Share On

एक ऐसी जगह जहां लटककर चलती हैं ट्रेन, देखें तस्‍वीरें

  • ट्रेनों में हजारों लोग करते हैं सफर

जर्मनी की हैंगिंग ट्रेन

 

दि राइजिंग न्‍यूज

जर्मनी के वुप्पर्टल में लटककर ट्रेन (हैंगिंग ट्रेन) चलती है। पहली नजर में भले ही यह सच्ची न लगे, लेकिन इस ट्रेन सेवा से रोज करीब 82 हजार लोग ट्रैवल करते हैं। 


हैंगिंग ट्रेन करीब 13.3 किलोमीटर की दूरी में चलती है। इस दौरान ट्रेन 20 स्टेशन पर रुकती है। इसे दुनिया की सबसे पुरानी मोनो रेल भी कहते हैं।

 

रिपोर्ट्स के मुताबिक, यह ट्रेन 1901 में शुरू की गई थी। असल में यह शहर पहले ही विकसित हो गया था। इस वजह से यहां ट्रेने चलाने के लिए जगह ही नहीं बची थी। इसी दौरान यह आइडिया आया कि हैंगिंग ट्रेन चलाई जाए। क्योंकि यह इलाका पहाड़ी है, इसलिए अंडरग्राउंड ट्रेन चलाना भी मुश्किल था।

 

कितनी सुरक्षित है ये ट्रेन?

एक हैंगिंग ट्रेन 1999 में वुप्पर नदी में गिर गई थी। इस दौरान पांच लोग मारे गए थे और करीब 50 घायल भी हुए थे। हालांकि, इसके अलावा बड़ी दुर्घटना नहीं हुई। बिजली से चलने वाली यह ट्रेन करीब 39 फीट की ऊंचाई पर चलती है।


 

Share On

 

अन्य खबरें भी पढ़ें

HTML Comment Box is loading comments...

खबरें आपके काम की

 

 

https://gcchr.com/

 

 



शहर के कार्यक्रम एवं शिक्षा से जुड़ीं ख़बरें