• वसंतकुंज और मालवीय नगर बिना कागजात के रह रहे 20 विदेशी पकड़े गए
  • एवरेस्‍ट पर चढ़ने के बाद गायब भारतीय रवि कुमार मृत पाए गए
  • सिख विरोधी दंगा मामले में जगदीश टाइटलर ने लाई डिटेक्‍टर टेस्‍ट कराने से किया इंकार
  • मुंबईः कॉकपिट से धुआं निकलने के बाद एयर इंडिया फ्लाइट की इमरजेंसी लैंडिंग, सभी यात्री सुरक्षित
  • लखनऊ: IAS अनुराग तिवारी की मौत के मामले में अज्ञात लोगों के खिलाफ FIR
  • कोयला घोटाला: पूर्व कोयला सचिव एचसी गुप्ता को 2 साल की सजा
  • PM मोदी की हत्या करने के लिए 50 करोड़ रुपये का ऑफर, विदेश से आई कॉल

Share On

सिर्फ मुद्दा नहीं उठाते, समाधान भी करते हैं : प्रियंका



 

दि राइजिंग न्यूज

अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद की कर्मठ कार्यकर्ता और दिल्ली यूनिवर्सिटी की नव निर्वाचित छात्रसंघ उपाध्यक्ष प्रियंका छावरी राजधानी आईं थीं। वे एबीवीपी के छात्रनेता सम्मेलन में बतौर अतिथि मौजूद रहीं। जेएनयू विवाद के बाद चर्चा में आईं इस वूमेन पावर ने अपनी आवाज से बहुत से ‍लोगों को राष्ट्रनिर्माण की धारा में जोड़ा। जिससे देश विरोधी नारे लगाने वाले बैकफुट पर चले गए। दि राइजिंग न्यूज से बातचीत करते हुए डीयू की उपाध्यक्ष प्रियंका छावरी ने कन्हैया कुमार के खिलाफ नाराजगी जताई।




हरियाणा में जन्मी

प्रियंका का जन्म हरियाणा के संकवाड़ी गांव में हुआ था। उनकी प्रारम्भिक शिक्षा गांव में ही हुई। फिर वे दिल्ली आ गईं और डीयू में ‍शिक्षा ग्रहण करने लगी। वे एक राजनीतिक परिवार से संबंध रखती हैं। 2011 में एबीवीपी से जुड़ीं और 2016 में उपाध्यक्ष चुनी गईं।




कन्हैया हैं राष्ट्रद्रोही

कहती है कि जेएनयू परिसर में राष्ट्रविरोधी नारे लगाने वाले जेएनयू के अध्यक्ष कन्हैया कुमार ने अपने साथियों के साथ जो नारे लगाए वे किस मानसिकता को दर्शाते हैं। वे आखिर कहना क्या चाहते हैं। क्या अफजल गुरू व मकबूल भट्ट और देश विरोध ताकतों के साथ कदम से कदम मिलाने वाले राष्ट्र भक्त हो सकते हैं। वह पूरी तरह से राष्ट्रद्रोही हैं। कश्मीर में 17 सेना के जवान शहीद हो गए। अब ये लोग क्या कहेंगे। क्या उनके घर बहन, बेटियां नहीं है। इसलिए हम लोगों ने कन्हैया कुमार का जमकर विरोध किया था। आज भी करेंगे। क्योंकि हम कभी भी राष्ट्रविरोधी ताकतों को सिर उठाने नहीं देंगे और जितना होगा उनता विरोध करेंगे।


हम सिर्फ मुद्दा नहीं उठाते समाधान करते हैं

कहती हैं कि एबीवीपी ने छात्रों के ‍हित में जो भी मुद्दे उठाएं उसपर अंतिम समय तक संघर्ष ‍किया। हमारा काम सिर्फ मुद्दों को ही उठाना नहीं है हम समाधान चाहते हैं। बताया कि डीयू में तमाम छात्र-छात्राओं के मुद्दों का समाधान किया गया। आगे भी प्रयास जारी है। चाहे शिक्षा की पद्दति का हो या महिला सुरक्षा। ‍निर्भया कांड से लेकर जेएनयू विवाद तक हमने संघर्ष किया और हम आगे भी काम कर रहे हैं।


यूपी को बनाएंगे उत्तम प्रदेश

यूपी का बहुत ही गौरवशाली इतिहास रहा है। आज समाजवादी पार्टी ने इसके गौरव को चौपट कर ‍दिया है। हम अब परिवर्तन का नारा बुलंद करते हैं और फिर परिवर्तन करके राष्ट्रपुनर्निमाण के जरिये यूपी को उत्तम प्रदेश बनाएंगे।


यूपी में भी लांच करेंगे वूमेन सुरक्षा ऐप

कहती हैं ‍कि नवम्बर के बाद निर्भया के माता-पिता लखनऊ आएंगे और दिल्ली विवि की तरह लखनऊ में भी वूमेन सुरक्षा ऐप की लांचिंग की जाएगी। यूपी में महिलाओं व छात्रों के साथ छेड़खानी का मामला खूब आता है। इसलिए यह ऐप यहां बहुत कारगर होगा। हम लोग प्रयास कर रहे हैं कि यह ऐप पूरे प्रदेश के विवि में लागू हो तो छात्राओं को राहत होगी। इसके जरिए हम लोगों में जागरुकता भी फैला सकेंगे और सभी को सचेत करेंगे। यह बड़ा प्रयास होगा।

 

Share On

 

अन्य खबरें भी पढ़ें

HTML Comment Box is loading comments...

खबरें आपके काम की

 

 

https://gcchr.com/

 

 



शहर के कार्यक्रम एवं शिक्षा से जुड़ीं ख़बरें