Actress katrina Kaif and Mouni Roy Visited Durga Puja Pandal

दि राइजिंग न्यूज़

आउटपुट डेस्क।

येति सफ़ेद भूरे बालों वाला बन्दर जैसा दिखने वाला एक जीव होता हैं। जो कि हिमालय की उंचाइयों में पाया जाता हैं। आमतौर पर इस जीव के निशान घने जंगलों में या फिर पहाड़ों में पाए जाते हैं। इस जीव के शरीर की बनावट किसी महामानव की ही भांति होती हैं। जिसका पूरा शरीर बड़े-बड़े बालों से ढका होता है। इसके शरीर से अजीब सी गंध आती रहती हैं। ताकतवर दिखने वाले इस जानवर के पैर बड़े-बड़े होते हैं|

इस जीव का घर नेपाल, भारत और तिब्बत के हिमालय पहाड़ वाला इलाका हैं। वही साइबेरिया रूस में भी इस जीव को देखे जाने की बात कही जाती हैं। येति, महामानव, हिममानव, वनमानुष, बिग फुट, स्नोमैन आदि नाम से प्रसिद्ध इस जीव की बहुत सी पौराणिक कथाएं सुनाई जाती हैं। हजारों सालों से ये जीव सिर्फ एक किवदंती ही बना हुआ हैं। डिस्कवरी और नेशनल जियोग्राफी ने इस पर बहुत खोज की पर कोई भी साक्ष्य नहीं जुटा पाए। हिमालय में रहने वाला ये जीव बहुत तेज चीखने वाला जीव हैं|

येति के सबूत

सबसे पहले 1925 में एक जर्मन फोटोग्राफर ने दावा किया कि उसने हिममानव को देखा हैं। वहीँ कुछ नेपाली भी दावा करते हैं कि वो इस जीव को देख चुके हैं। फिर 1953 में माउन्ट एवरेस्ट पर जाने वाले पहले व्यक्ति सर एडमंड हिलेरी और शेरपा तेन्जिंग नोर्गे ने बड़े-बड़े पैरों के निशान देखने की बात की। 2008 में जापानी एडवेंचरर ने इंसान के पैरों के निशानों जैसे ही 8 इंच बड़े पैरों के निशान देखे। उन्होंने दावा किया कि बेशक ये निशान येति के ही हैं। 2010 में चीन के रिमोट एरिया के पुराने जंगलों में मिले एक जीव को येति बताया गया था। स्थानीय लोगों की शिकायत पर सिचुआन प्रांत से इस रहस्यमयी जीव को पकड़ा गया था|

येति का अस्तित्व

ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर ब्रायन साइक्स ने एक स्टडी में कहा हैं कि येति संभवत: 40 हजार साल पुरानी ध्रुवीय भालू (पोलर बियर) प्रजाति का जीव हैं। रिसर्चर ब्रायन साइक्स ने कहा हैं कि उनका ये मतलब कतई नहीं हैं कि 4,000 साल पुराने ध्रुवीय भालू अब हिमालय में रहते हो, पर हिमालयी क्षेत्रों में रहने वाले भूरे भालुओं की उप-प्रजातियां हो सकती हैं। वहीँ दुसरे स्टडी ग्रुप (यूनिवर्सिटी ऑफ कनसास के प्रोफेसर एलिसर गुतिरेज की टीम) ने दावा किया हैं कि ये एक भूरे बालों वाला भालू हैं जो आमतौर पर हिमालय में रहता हैं। एक और ब्रिटिश वैज्ञानिक शोध में इस बात का खुलासा किया गया हैं कि हिमालय में रहने वाला मिथकीय जीव येति भालुओं की उपप्रजाति का ही एक जीव हैं|

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement