Home Mysterious News The Secrets Of These Dead Bodies Are Yet Not Revealed

तेलंगाना: हाकिमपेट में चॉपर दुर्घटनाग्रस्त, महिला कैडेट घायल

गुरुग्रामः अरावली में तेंदुए की संदिग्ध हालत में मौत, चोट के निशान मिले

आतंकी हाफिज सईद ने फिर अलापा कश्मीर राग, कहा- जारी रहेगी लड़ाई

नाक, गला काटने पर इनाम देने वाले की आलोचना राष्ट्रविरोध तो नहीं-जावेद अख्तर

दिल्ली: ACB चीफ मुकेश मीणा को मिजोरम ट्रांसफर किया गया

सदियां गुजर गईं...यहां आज भी सुरक्षित हैं डेड बॉडीज़

Mysterious News | 23-Aug-2017 | Posted by - Admin

   
The Secrets of these dead Bodies are yet not revealed

दि राइजिंग न्यूज़

आउटपुट डेस्क।

 

मौत होने के कुछ समय बाद, शव खराब होने लगता है और इसे देर तक रखना काफी मुश्किल होता है लेकिन दुनिया में कुछ लोगों की ऐसी भी डेड बॉडीज हैं, जो सदियां गुजरने के बाद भी सुरक्षित हालत में हैं।

 

कुछ बिना उपाय के सुरक्षित बनी रहीं, तो कुछ के लिए उपाय भी करने पड़े। इसके राज़ का खुलासा आज तक नहीं हो पाया है। साइंटिस्ट का मानना है कि यह टेक्नोलॉजी के माध्यम से सुरक्षित हैं तो वहीँ अध्यात्मिक लोगों का मानना है की इसके पीछे कोई दैव्य शक्ति है। अब सच और झूठ के बारे में तो हमे नहीं पता है लेकिन हम आपको यह जरूर बता सकते हैं की किसके शव आज तक सुरक्षित हैं।  

   

 

सेंट जीटा

इटली के लुक्का कस्बे के बैसिलिका डि सैन फ्रेडिआनो में सेंट जीटा की बॉडी रखी गई है। वह एक कैथोलिक संत थीं और जरूरतमंदों की देखभाल करती थीं। लोगों ने दावा किया कि 1272 में जब सेंट जीटा की मौत हुई थी तो उनके घर के ऊपर एक तारा (स्टार) दिखाई दिया था। 1580 में उनकी बॉडी को खोदकर निकाला गया तो यह सुरक्षित हालत में मिली। जीटा को 1696 में संत घोषित किया गया था।

 

जॉन टोरिंगटन

1846 में अंग्रेज ऑफिसर जॉन टोरिंगटन नॉर्थवेस्ट पैसेज की खोज के अभियान में लगे थे। इस दौरान उनकी मौत हो गई। उस समय उनकी उम्र 22 साल की थी। मौत के बाद उनकी इस बॉडी को कनाडा में आर्कटिक के बैरन टुंड्रा में दफना दिया गया था। 1984 में टोरिंगटन की कब्र को शिफ्ट करने के लिए खोदा गया तो सभी लोग हैरान रह गए। टोरिंगटन की डेड बॉडी तक ज्यों की त्यों रखी हुई थी। इस बारे में उस समय मीडया में काफी खबरें भी पब्लिश हुई थीं।

 

ला डोंसेला

दक्षिणी अमेरिका में यूरोपियन लोगों के पहुंचने से पूर्व एंडीज पर्वत की एक ऊंची जगह पर इंका महिला की बलि दी गई थी। पहाड़ के वातावरण में महिला का शरीर सुरक्षित बना रहा। करीब 500 साल बाद ला डोंसेला की बॉडी बर्फ में जमी हुई मिली।

 

डैशी-डोरजहो इटिगिलोव

यह दुनिया की सबसे संरक्षित ममीज में से एक है। लेडी जिन झुई हान राजवंश के एक राजनीतिज्ञ की पत्नी थीं। उनकी मौत 163 ईसा पूर्व हुई थी। 2000 साल बाद 1972 में जब लेडी जिन झुई के मकबरे को खोदा गया तो बॉडी बेहद सुरक्षित थी और नसों में ब्लड भी मौजूद था। वैज्ञानिकों ने अनुमान लगाया की उसकी मौत हार्ट की बीमारी से हुई होगी।

"जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555


संबंधित खबरें



HTML Comment Box is loading comments...

Content is loading...




TraffBoost.NET

Rising Stroke caricature
The Rising News Public Poll


What-Should-our-Attitude-be-Towards-China


Photo Gallery
गोमती तट पर दीप आरती करती महिलाएं। फोटो- अभय वर्मा



Flicker News

Most read news

 


Most read news


Most read news


sex education news

गैजेट्स