Sooraj Pancholi to donate his earnings from satellite shankar to army

दि राइजिंग न्यूज़

आउटपुट डेस्क।

 

शैग हार्बर कनाडा के नोवा स्कोटिया में बसा एक छोटा सा गांव है। 4 अक्टूबर सन 1967 को वहां एक बड़ी विचित्र घटना घटी थी। वहां के रहने वाले लोगों ने आसमान में नारंगी रौशनी को देखा जो किसी विमान से जुड़ा हुआ था। वो विमान बहुत ही तेज गति से उतरा जिस वजह से बहुत जोरों की आवाज़ आयी। वो विमान सीधा समुद्र में उतरा था पर वो डूबने की बजाय समुद्र की सतह में तैर रहा था। वहां के लोगों को लगा की उन्होंने कोई विमान दुर्घटना देखि है। इसलिए उन्होंने वहां के अधिकारीयों को इस घटना के बारे में सूचित किया।

उस घटना के कुछ समय बाद कोस्ट गार्ड की शिप वहां पहुंची पर तब तक वो विमान गायब हो चुका था। हैलिफ़ैक्स बचाव समन्वय केंद्र ने बताया की जिस दिन ये घटना घटी उस दिन कोई भी विमान की लापता होने की सुचना नहीं मिली थी। सरकारी एजेंसियों ने पानी के अंदर इसके अवशेष तलाशने की बहुत कोशिश की पर कुछ हाथ नहीं लगा। नेवी वालों ने 3 दिन तक उस जगह की बारीकी से जांच की पर कोई भी सबूत नहीं मिला जो ये साबित करता हो की यहां कोई विमान डूबा था। शैग हार्बर का ये केस एक रहस्य बन के रह गया है और ये आज भी एक रहस्य है।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement