Home Rising At 8am Updates Over Modi Government Decision On Haj Pilgrims

27-28 अप्रैल को वुहान में चीनी राष्ट्रपति से मिलेंगे पीएम मोदी

भगवान के घर देर है अंधेर नहीं: माया कोडनानी

हैदराबाद: सीएम ऑफिस के पास एक बिल्डिंग में लगी आग

पंजाब: कर्ज से परेशान एक किसान ने ट्रेन के आगे कूदकर दी जान

देश में कानून को लेकर दिक्कत नहीं बल्कि उसे लागू करने को लेकर है: आशुतोष

हज सब्सिडी पर केंद्र सरकार का ब्रेक

Rising At 8am | 16-Jan-2018 | Posted by - Admin

 

  • कांग्रेस ने बताया मुद्दे भटकाने की ऱणनीति

  • सपा ने नए तरीके से हिंदू कार्ड खेलने की तैयारी करार दिया

   
Updates over Modi Government Decision on Haj Pilgrims

दि राइजिंग न्‍यूज

संजय शुक्ल

लखनऊ।

 

लोकसभा चुनाव से लेकर यूपी, हिमाचल, गुजरात के चुनाव तक हिंदुत्व कार्ड को खेलकर फतह हासिल करने वाली भारतीय जनता पार्टी ने एक बार फिर इस कार्ड को धार दी है, वह भी एक नए कलेवर के साथ। सरकार ने मंगलवार को हज सब्सिडी बंद करने का फैसला कर लिया। सरकार इस पर व्यय होने वाला करीब 700 करोड़ रुपये बच्चों की शिक्षा पर खर्च करने की बात कह रही है। मगर इस घोषणा के बाद सियासत का बाजार गर्म हो गया। उत्तर प्रदेश से ही हर साल 12 हजार से अधिक लोग हज पर जाते हैं। उल्लेखनीय है कि सुप्रीम कोर्ट ने वर्ष 2012 में ही वर्ष 2022 तक हज सब्सिडी समाप्त कर दिए जाने की बात कही थी। अब इस साल करीब 1.75 लाख लोग बिना सब्सिडी के ही हजयात्रा करेंगे।  

दरअसल आजादी के बाद पहली बार हज सब्सिडी पर रोक लगाई गई है। इस कारण से एक वर्ग इससे खासा नाराज दिख रहा है। तीन तलाक और हज में मेहरम की अनिवार्यता समाप्त होने के बाद मुस्लिम मतदाताओं को आर्कषित करने में सफल रही भारतीय जनता पार्टी के खिलाफ माहौल तैयार करने का मौका बाकी सियासी दलों को भी मिल गया है। सरकार के इस फैसले को हिंदू तुष्टीकरण का भी नाम दिया जा रहा है। माना जा रहा है कि सब्सिडी समाप्त होने के बाद मध्यम व निम्न मध्यम वर्ग के लोगो के लिए हज करना भी मुश्किल हो जाएगा। इस मुद्दे पर विपक्षी दल भी अब भाजपा पर निशाना साधते नजर आ रहे हैं। कई धार्मिक गुरु तो इसे राष्ट्रीय स्वंय सेवक संघ का एजेंडा करार दे रहे हैं। वहीं सरकार का कहना है कि हज पर सब्सिडी बंद होने से जो पैसा बचेगा उसे बालिकाओं की शिक्षा पर खर्च किया जाएगा लेकिन यह बात किसी के गले नहीं उतर रही है। 

हज सब्सिडी समाप्त करना केवल लोगों का ध्यान विश्व हिंदू परिषद के अध्यक्ष प्रवीण तोगड़िया के प्रकरण से हटाना भर है। सुप्रीम कोर्ट के न्यायाधीशों के बीच का वैमनस्य भी सरकार के गले की फांस बन गया है। इन्हीं मुद्दों से दिगभ्रमित करने के लिए ही भाजपा की केंद्र सरकार इस तरह के पैंतरें आजमा रही है। अब सुर्खियों में हज सब्सिडी का मामला हो जाएगा और सरकार जवाबदेही से बच निकलेगी।

द्विजेंद्र त्रिपाठी

प्रवक्ता कांग्रेस

भाजपा अपने हिंदुत्व कार्ड एक बार फिर से खेलने की तैयारी कर रही है। हज सब्सिडी समाप्त किया जाना, केवल खुद श्रेष्ठ हिंदूवादी करार देना भर है। अन्यथा जिस तरह से राहुल गांधी व कांग्रेस पार्टी सहित बाकी सियासी दल भी अब हिंदूओं को अपनी तरफ आकर्षित कर रही हैं, उससे भाजपा की बेचैनी बढ़ गई है।

अनुराग भदौरिया

प्रवक्ता समाजवादी पार्टी

 

"जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555







TraffBoost.NET

Rising Stroke caricature
The Rising News Public Poll

Merchants-Views-on-Yogi-Government-One-Year-Completion

Loading...




Flicker News

Most read news

 


Most read news


Most read news