Coffee With Karan Sixth Season Teaser Released

दि राइजिंग न्‍यूज

संजय शुक्ल

लखनऊ।

राजधानी में ही सरकारी स्कूलों में पढ़ने वाले बच्चे अभी स्वेटर का इंतजार कर रहे हैं। लखनऊ में सरकारी स्कूलों में सरकारी आदेश के बाद स्वेटर बंटना तो शुरू हो गए है लेकिन इस हाड़कंपाती ठंड में उन्हें स्वेटर मिल पाएंगे, इसकी उम्मीद कम ही नजर आती है। शिक्षा विभाग के अधिकारियों का दावा है कि उपलब्धता के आधार पर स्वेटर वितरित किए जा रहे हैं। अब तक करीब 16 हजार बच्चों को स्वेटर दे दिए गए हैं और अगले कुछ दिनों में सभी बच्चों को स्वेटर दिए जाने का लक्ष्य है। इसमें बाजार में स्वेटर न मिलना भी दिक्कत पैदा कर रहा है। वहीं, सरकारी मशीनरी की सुस्त रफ्तार के चलते बच्चे कड़कड़ाती ठंड में बिना स्वेटर ही स्कूल जाने को विवश है।

मुख्यमंत्री आवास से बामुश्किल डेढ़ किमी दूर स्थित जियामऊ प्राथमिक विद्यालय को ही देखिए। यहां पर मंगलवार को बच्चे बिना स्वेटर ही दिखे। पूछने पर बच्चों ने ही स्वेटर नहीं मिलने की बात कही। जबकि यह वह क्षेत्र है जहां पिछले दिनों मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ रैन बसेरे की हालत देखने खुद पहुंच गए थे। नतीजा यह हुआ कि रैन बसेरे में 24 घंटे के अंदर नए बिस्तर, तकिया और रजाई लग गए लेकिन शायद इन बच्चों के बारे में मुख्यमंत्री को जानकारी ही नहीं दी गई। केवल जियामऊ ही नहीं, सरोजनीनगर, ठाकुरगंज, बालागंज, काकोरी, चिनहट सहित तमाम इलाकों में बच्चे अभी स्वेटर का इंतजार कर रहे हैं। शिक्षक भी बीएसए कार्यालय से स्वेटर भेजे जाने की प्रतीक्षा कर रहे हैं और इसी उम्मीद में सर्दी काट रहे हैं।

बाजार में ही स्वेटर कम

शिक्षा विभाग के अधिकारियों ने बताया कि पिछले कई दिनों से जितने भी स्वेटर मिल रहे हैं, उन्हें बच्चों में बटवायां जा रहा है। गत शनिवार को करीब दस हजार स्वेटर वितरित किए गए। सोमवार को भी छह हजार के करीब स्वेटर वितरित किए गए। इसके साथ स्वेटरों की खरीद की जा रही है। इनकी मांग ज्यादा होने के कारण बाजार में जितने स्वेटर मिल रहे हैं, उन्हें खरीदा जा रहा है। पंद्रह जनवरी तक बच्चों को स्वेटर दे दिए जाएंगे। हालांकि सरकार ने स्वेटर वितरित करने के लिए एक महीने का समय दिया है।

बच्चों को स्वेटर देने का काम शुरू कर दिया गया है। जैसे –जैसे स्वेटर मिल रहे हैं, उसी के अनुरूप बांटा जा रहा है। कई स्कूलों में स्वेटर दे दिए गए हैं और बाकी में अगले कुछ दिन में स्वेटर बांट दिए जाएंगे। सरकार ने जो समय दिया है, उसके काफी पहले ही वितरण का काम पूरा कर लिया जाएगा।

प्रवीण मणि त्रिपाठी

बेसिक शिक्षा अधिकारी 

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement